fbpx Press "Enter" to skip to content

पुलिस जिला नवगछिया के ओलियाबाद में हुई थी भीषण डकैती की यह घटना

  • 48 घंटे में डकैती के पंद्रह लाख से अधिक राशि बरामद

  • डीआईजी सुजीत कुमार ने दी जानकारी

  • कांड के पांच आरोपी गिरफ्तार

  • लाखों के जेवरात बरामद

दीपक नौरंगी

भागलपुरः पुलिस जिला नवगछिया के झंडापुर थाना क्षेत्र के ओलियाबाद में हुए भीषण

डकैती का पुलिस ने उद्भेदन करते हुए 5 अपराधियों को हथियार और लूटे गए सामान के

साथ धर दबोचा।

वीडियो में समझ लीजिए पूरी रिपोर्ट को

इससे पहले ही फिर से बता दें कि भागलपुर के प्रशासनिक कार्यक्षेत्र में होने के बाद भी

पुलिस विभाग में नवगछिया अलग जिला है। नवगछिया के एसपी सुशांत कुमार सरोज

कुछ दिनों को छुट्टी पर है। डीआईजी सुजीत कुमार ने कहा कि एसपी के छुट्टी लेने से कोई

अंतर नहीं पड़ा एसपी सुशांत कुमार सरोज छुट्टी रहने के बाद भी लगातार मोबाइल के

माध्यम से लगातार निर्देश दे रहे थे और संपर्क बनाए रखे थे। भागलपुर रेंज के डीआईजी

सुजीत कुमार ने नवगछिया एसपी कार्यालय में प्रेस कांफ्रेंस आयोजित कर बताया कि

श्वान दस्ता का बहुत महत्वपूर्ण भूमिका रही है। डीआईजी सुजीत कुमार सुबह से ही

नवगछिया पुलिस जिला पहुंचे हुए थे। गिरफ्तार आरोपियों से डीआईजी ने खुद पूछताछ

की है। तबीयत खराब होने के बाद भी डीआईजी नवगछिया में घटना की पूरी जानकारी

लेते रहे और जिस व्यापारी विनोद जैन के डकैती की घटना घटी थी डीआईजी ने अधिकारी

विनोद जैन से भी काफी देर बातचीत की और कहा कि आपको कोई परेशानी हो कुछ भी हो

तो आप हम से सीधे संपर्क कर सारी बात बता सकते हैं। डीआईजी की भूमिका से आम

लोग संतुष्ट दिखे। पुलिस ने दो दिनों के अंदर लाखों रुपए डकैती के मामले का उद्भेदन

करते हुए इस कांड में शामिल पांच अपराधियों को हथियार और लूटे गए रुपया और

जेवरात के साथ धर दबोचा

पुलिस जिला नवगछिया के एसपी बाहर होने के बाद भी सक्रिय रहे

डीआईजी सुजीत कुमार ने बताया कि 17 जनवरी की देर रात ओलियाबाद निवासी विनोद

जैन के घर पर डकैतों ने हमला कर 20 लाख रुपया नगद और लाखों रुपया का आभूषण

हथियार के बल पर लूट लिया था। जिसके बाद नवगछिया एसपी सुशांत कुमार सरोज ने

मामले को गंभीरता से लेते हुए नवगछिया एसडीपीओ दिलीप कुमार, इंस्पेक्टर अमर

विश्वास ,पंकज कुमार, नीरज कुमार और हरिशंकर कश्यप के नेतृत्व में विशेष टीम का

गठन मामले के उद्भेदन को लेकर किया। विशेष टीम ने वैज्ञानिक एवं तकनीकी अनुसंधान

के आधार पर डकैती कांड में शामिल पांच अपराधियों को 15 लाख 5 हजार 1 सौ 50 रुपए

नगद, भारी मात्रा में सोना और चांदी के जेवरात, और अपराध में प्रयुक्त हथियार के साथ

धर दबोचा गया। इस दौरान डीआईजी ने मामले के उद्भेदन में शामिल विशेष टीम को

पुरस्कृत किए जाने की भी बात कही। प्रेस वार्ता के दौरान नवगछिया एसडीपीओ दिलीप

कुमार सहित विशेष टीम के सभी अधिकारी और पुलिस बल के जवान मौजूद थे

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from HomeMore posts in Home »
More from अपराधMore posts in अपराध »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from बिहारMore posts in बिहार »
More from भागलपुरMore posts in भागलपुर »
More from विधि व्यवस्थाMore posts in विधि व्यवस्था »

Be First to Comment

... ... ...
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: