कश्मीर घाटी में शांति बहाली पहली प्राथमिकता: जेटली

0 592

श्रीनगर: रक्षा मंत्री अरुण जेटली ने हुर्रियत कांफ्रेंस समेत सभी अलगावादी संगठनों से बातचीत की संभावना को  स्पष्ट रूप से खारिज किए बगैर आज कहा कि इस समय कश्मीर घाटी में स्थिति को सामान्य बनाए रखना  ही पहली प्राथमिकता है।

श्री जेटली ने यहां वस्तु एवं सेवाकर परिषद  की  14वीं बैठक के बाद  संवाददाताओं से कहा  कि कश्मीर घाटी की मौजूदा स्थिति इस बात का  ही नतीजा है जब लोगों ने हथियार और  हिंसा का सहारा लेकर दूसरे लोगों और सुरक्षा बलों को मारा तथा संपत्तियों को नुकसान पहुंचाया।

रक्षा मंत्री ने एक सवाल पर कहा कि दूसरे राज्यों के लोगों में भी पूरे देश के लिए भावनाएं हैं लेकिन इसका अर्थ यह नहीं है कि कोई भी  हिंसा का सहारा लेने लगे।

इस ओर ध्यान दिलाए जाने के बाद कि  प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) सरकार जिसमें वह खुद कैबिनेट मंत्री थे,ने भी अलगाववादियों के साथ बातचीत की थी ,श्री जेटली ने कहा” स्थिति को सामान्य हो जाने दीजिए जो इस समय सबसे बड़ी प्राथमिकता है। इसके बाद ही केन्द्र सरकार की ओर से कोई घोषणा की जाएगी।

You might also like More from author

Comments

Loading...