Press "Enter" to skip to content

नापोखुर्द में आउटसोर्सिंग कंपनी के विरोध में किया प्रदर्शन




राष्ट्रीय खबर

बड़कागांव: नापोखुर्द गांव के रैयतों द्वारा ओएनजीसी कंपनी के आउटसोर्सिंग कंपनी प्रभा एनर्जी के मनमानी रवैया को लेकर धरना प्रदर्शन शुरू किया गया।




कंपनी के 39 नंबर प्वाइंट पर भू- रैयतों ने धरना प्रदर्शन शुरू करते हुए कहा है कि प्रभा एनर्जी लिमिटेड अपनी मनमानी रवैया अपना कर रैयतों के भावनाओं के साथ खिलवाड़ कर रही है। ज़मीन अधिग्रहण के बदले नौकरी देने की वादे से मुकर रही है। रैयतों को 2 महीना नौकरी करा कर हटा दिया जाता है।

इसके अलावा अधिकृत जमीन का तय मुआवजा विगत कई महीना से भुगतान नहीं किया गया है। मुआवजे एवं नौकरी की मांग करने पर प्रभावित रैयतों को मुकदमा का भय दिखा कर मानसिक रूप से प्रताड़ित कर रही है।

ज्ञात हो कि ओएनजीसी कंपनी द्वारा बड़कागांव प्रखंड के दर्जनों गांव में दर्जनों पॉइंट स्थापित कर गैस निकालने का अपने आउटसोर्सिंग कंपनी प्रभा एनर्जी को कॉन्ट्रैक्ट दे रखा है।




नापोखुर्द के भू-रैयतों की शिकायत कंपनी मनमानी कर रही है

इसके लिए रैयतों का भूमि 30 से 40 वर्षों के लिए लीज पर ली है। भूमि अधिग्रहण अधिनियम के तहत रैयतों को नौकरी एवं कई तरह की सुविधा के साथ-साथ क्षेत्र में विकास करने का भी वादा की गई है।

लेकिन बाद में प्रभा एनर्जी कंपनी रैयतों के साथ किए गए वादे से मुकर कर अपनी मनमानी तरीके से काम करती है, जिसके विरोध में कई गांव के ग्रामीण समय-समय पर कंपनी के विरुद्ध आंदोलन भी करते रहते हैं और इसी आलोक में नापो खुर्द के ग्रामीणों द्वारा 39 नंबर पॉइंट पर विरोध प्रदर्शन शुरू किया गया है।

हालांकि प्रभा एनर्जी कंपनी द्वारा कई स्थानीय लोगों को भी पाल रखी है जो समय-समय पर इस कंपनी के पक्ष में स्थानीय रैयतों के साथ उलझने पैदा करते रहते हैं। इसके अलावा इस कंपनी को कई राजनीतिक दल के कार्यकर्ताओं का भी संरक्षण प्राप्त के कारण रैयतों का सही हक एवं अधिकार मारा जा रहा है।



More from HomeMore posts in Home »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from राजनीतिMore posts in राजनीति »
More from हजारीबागMore posts in हजारीबाग »

Be First to Comment

Leave a Reply

%d bloggers like this: