fbpx Press "Enter" to skip to content

म्यांमार में सैनिक विद्रोह के बाद आंग सान सू हिरासत में

नेपिडाः म्यांमार में सैनिक विद्रोह के बाद सत्ताधारी दल पर सेना की कार्रवाई होने लगी

है। मिली जानकारी के मुताबिक वहां की निर्वाचित नेता आंग सान सू के साथ साथ कई

अन्य लोगों को भी हिरासत में ले लिया गया है। इस बीच वहां के इस तख्तापलट पर

अमेरिका ने लोकतांत्रिक व्यवस्था पर चोट पहुंचाने वालों के खिलाफ कार्रवाई की चेतावनी

दी है। म्यांमार में पिछले कुछ समय से सरकार और सेना के बीच तनाव की खबरों के

मध्य यह कदम उठाया गया। म्यांमार में तख्तापलट पर अमेरिका ने प्रतिक्रिया दी है।

अमेरिका ने लोकतांत्रिक व्यवस्था को चोट पहुंचाने वालों के ख़िलाफ़ कार्रवाई की धमकी

दी। म्यांमार की सेना ने आंग सान सू की को हिरासत में लेने के बाद देश में एक साल का

आपातकाल घोषित कर दिया है। सेना ने एक साल के लिए देश का नियंत्रण अपने हाथों में

ले लिया है। सेना ने जनरल को कार्यकारी राष्ट्रपति नियुक्त किया है। व्हाइट हाउस की

प्रवक्ता जेन पेस्की ने कहा, कि अमेरिका को इस बात की जानकारी मिली है कि म्यांमार

की सेना ने स्टेट काउंसलर आंग सान सू की और अन्य अधिकारियों को हिरासत में लेने

समेत देश की लोकतांत्रिक प्रतिक्रिया को कमजोर करने के लिए कदम उठाए हैं। राष्ट्रीय

सुरक्षा सलाहकार द्वारा राष्ट्रपति जो बिडेन को जानकारी दी गई है।

म्यांमार में तख्ता पलट की जानकारी राष्ट्रपति बिडेन को दी गयी

उन्होंने कहा कि हम बर्मा (म्यांमार) की लोकतांत्रिक संस्थाओं के साथ मजबूती से खड़े हैं

और अपने क्षेत्रीय सहयोगियों के साथ संपर्क में हैं। हम सैना और अन्य सभी दलों से

लोकतांत्रिक मानदंडों और कानून का पालन करने तथा हिरासत में लिए गए लोगों को रिहा

करने का आग्रह करते हैं। प्रवक्ता ने कहा कि अमेरिका हालिया चुनाव परिणामों को

बदलने या वहां की लोकतांत्रिक प्रतिक्रिया को बाधित करने के किसी भी तरह के प्रयास का

विरोध करता है। इन कदमों को वापस नहीं लिया जाता है तो जिम्मेदार लोगों के खिलाफ

कार्रवाई की जाएगी। हम स्थिति की बारीकी से निगरानी कर रहे हैं और बर्मा के लोगों के

साथ खड़े हैं। यह भी समझा जा रहा कि अमेरिकी की यह त्वरित प्रतिक्रिया दरअसल इस

देश के साथ साथ चीन के लिए भी है। ऐसी चर्चा पहले से ही चल रही थी कि चीन ने वहां

की सत्ता पर अपनी पकड़ मजबूत करने के लिए कई किस्म के हथकंडे अपनाये हुए हैं।

इनमें सेना के अंदर भी बगावत कराना शामिल था

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from HomeMore posts in Home »
More from कूटनीतिMore posts in कूटनीति »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from म्यांमारMore posts in म्यांमार »
More from यू एस एMore posts in यू एस ए »
More from रक्षाMore posts in रक्षा »
More from राजनीतिMore posts in राजनीति »

One Comment

  1. […] म्यांमार में सैनिक विद्रोह के बाद आंग … नेपिडाः म्यांमार में सैनिक विद्रोह के बाद सत्ताधारी दल पर सेना की कार्रवाई होने लगी है। … […]

... ... ...
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: