fbpx Press "Enter" to skip to content

होम्योपैथी डॉक्टर की गिरफ्तारी को लेकर एनएच 23 जाम

बोकारो: होम्योपैथी डॉक्टर की गिरफ्तारी की मांग को लेकर आंदोलन और तेज हुआ है।

दरअसल बीते दिनों कुर्मीडीह की रहने वाली एक छात्रा के साथ होम्योपैथी डॉक्टर द्वारा

किए गए छेड़खानी को लेकर पीड़िता परिजनों को आक्रोश मंगलवार को फूट पड़ा। डॉक्टर

की गिरफ्तारी को लेकर कुर्मीडीह रांची टोला की महिलाएं ने बालीडीह थाना में पहुंचकर

न्याय की मांग करते हुए एनएच 23 को करीब एक घंटे तक जाम कर दिया। इस दौरान

पीड़िता की मां ने कहा कि बालीडीह थाना प्रभारी इस मामले को लेकर आरोपी डॉक्टर को

गिरफ्तार कर थाना लाए था। थाना में उन लोगों ने डॉक्टर को देखा भी था, लेकिन दूसरे

दिन सुबह में जेल भेजने के बजाय उस डॉक्टर को थाना से ही छोड़ दिया गया। पीड़िता की

मां ने आगे बताया कि जब उसकी गिरफ्तारी की मांग हमलोग कर रहे हैं तो पुलिस

पदाधिकारी जांच करने की बात कर रहे हैं। इसलिए वह लोग सड़क पर उतरकर आंदोलन

कर रहे हैं कि इलाके की बहू बेटियां सुरक्षित रह सके। ज्ञात हो कि होम्योपैथी डॉक्टर के

द्वारा बीते सात अक्टूबर को छात्रा के साथ छेड़खानी की गई थी। जिसके बाद पुलिस ने 10

अक्टूबर को मामला दर्ज कर मामले को दबाने का प्रयास किया। उन्होंने कहा कि सोमवार

को जिले के एसपी कुमार झा से मिलकर मामले की जांच की मांग की।

होम्योपैथी डॉक्टर के मामले में पुलिस पर भी आरोप

एसपी के द्वारा उचित आश्वासन नहीं मिलने पर थाना का घेराव और सड़क जाम करने

का ऐलान कर दिया। वहीं आक्रोशित लोगों में काफी संख्या में आदिवासी महिला पुरुष के

साथ पहुंचकर सड़क को जाम किया गया। इसे बाजार में काफी संख्या में वाहनों की लंबी

लाइन लग गई। इस दौरान घटनास्थल पर सीसीआरडी एसपी ट्रैफिक डीएसपी पहुंची और

महिलाओं को समझाने का प्रयास किया। उसके बाद जाम खत्म हो सका। ट्रैफिक डीएसपी

ने घटना की पूरी जानकारी पत्रकारों को बताया कि मामले की जांच कर रहे हैं और जल्द ही

आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया जाएगा।


 

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from झारखंडMore posts in झारखंड »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from बोकारोMore posts in बोकारो »
More from स्वास्थ्यMore posts in स्वास्थ्य »

Be First to Comment

Leave a Reply

error: Content is protected !!