fbpx Press "Enter" to skip to content

मोजाहिदपुर थाना यानी जान हथेली पर लेकर जीना है

  • कार्यालय पर छत का हिस्सा गिरा बाल बाल बचे

  • ऊपर के बैरेक की छत भी पूरी तरह डैमेज है

  • अफसरों और सिपाहियों की जान जोखिम में

दीपक नौरंगी

भागलपुरः मोजाहिदपुर वैसे भी भागलपुर के लिए एक कठिन थाना है। जो लोग भागलपुर

को जानते हैं वे समझते होंगे कि सांप्रदायिक तनाव के मामले में यह थाना भी अत्यंत

संवेदनशील इलाका है। इसी वजह से यहां के अधिकारियों को काफी तनाव के साथ वैसे ही

काम करना पड़ता है।

वीडियो में देखिये इस थाना की खतरनाक स्थिति

कोरोना महामारी के वैश्विक दुष्काल में सभी के साथ साथ मोजाहिदपुर थाना के

पुलिसकर्मियों को भी निरंतर अतिरिक्त परिश्रम करना पड़ रहा है। इसके बीच भी थाना

परिसर भी तमाम पुलिस वालों के लिए जी जा जंजाल बना है। दरअसल इस थाना की पूरी

भवन ही जर्जर हो चुकी है। वहां आज अचानक काम चलने के दौरान कार्यालय के अंदर ही

छत का बड़ा सा टुकड़ा गिरने की खबर पर इस थाना के अंदर से देखने समझने का मौका

मिला। मोजाहिदपुर थाना के ऊपरी हिस्से में जो बैरेक बना है, उसमें कई पुलिस अधिकारी

रहते हैं। इस बैरेक की छत का ढेर सारा हिस्सा पहले ही उखड़ चुका है। कैमरे में भी छत की

ढलाई के नीचे का हिस्सा दरक जाने के बाद लोहे की छड़ें साफ नजर आ रही थी। बाहर से

भी देखने पर छत के पूरी तरह टूटे होने का साफ पता चल जाता है।

मोजाहिदपुर थाना का कार्यालय में अब भी बड़े बड़े टुकड़े

इस थाना की छत टूटकर कार्यालय में गिरने की सूचना पर जब वहां का हाल देखा गया तो

स्पष्ट हो गया कि मोजाहिदपुर थाना में कार्यरत पुलिसवाले दोहरे तनाव की जिंदगी जी

रहे हैं। बाहर के काम के दबाव के साथ साथ उन्हें थाना के अंदर भी सदैव सतर्क रहना

पड़ता है। आज जिस स्थान पर छत के टुकड़े गिरे, वहां थाना के मुशी की कुर्सी है। पास में

भी वैकल्पिक बिजली व्यवस्था के लिए बैटरियां और वायरलैश के उपकरण रखे हुए हैं।

छत का काफी हिस्सा इन उपकरणों पर भी आकर गिरा। गनीमत है कि जहां पर छत का

टुकड़ा गिरा, वहां उस वक्त कोई मौजूद नहीं था। देखने पर जमीन में तब भी छत के टूटे

हुए बड़े बड़े हिस्से नजर आये। मोजाहिदपुर थाना का नीचे और ऊपर का हाल देखकर यह

कहा जा सकता है कि अगर राज्य के पुलिस डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय सहित वरीय

अधिकारियों ने शीघ्र ही इस थाना भवन की हालत सुधारने पर ध्यान नहीं दिया तो कभी

भी बहुत बड़ा हादसा हो सकता है।


 

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from HomeMore posts in Home »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from भागलपुरMore posts in भागलपुर »
More from वीडियोMore posts in वीडियो »
More from हादसाMore posts in हादसा »

3 Comments

Leave a Reply

error: Content is protected !!