fbpx Press "Enter" to skip to content

मोदी की रैली में कम भीड़ को लेकर चिंतित नहीं बंगाल भाजपा

  • मोदी ने भीड़ के बारे में गलत जानकारी दी थी

  • आधा मैदान भी नहीं भर पाया था इस रैली में

  • भाजपा ने फर्जी तस्वीरों से भीड़ का प्रचार किया

विशेष प्रतिनिधि

कोलकाताः मोदी की रैली में उतनी भीड़ नहीं आयी थी, जितने का प्रचार खुद नरेंद्र मोदी

और बाद में भाजपा के द्वारा किया गया। इस जनसभा की भीड़ संबंधी तस्वीरों की

सच्चाई का खुलासा हो गया है। दूसरी तरफ बंगाल के लोग सिलिगुड़ी में ममता बनर्जी की

कल की रैली में जुटी भीड़ को इसके मुकाबले अधिक आंक रहे हैं।  ब्रिगेड परेड मैदान में

नरेंद्र मोदी ने भले ही यह एलान कर दिया कि ऐसी भीड़ उन्होंने पहले कभी नहीं देखी।

लेकिन वास्तविकता इस दावे से दूर नजर आयी। इस विशाल मैदान का अधिकांश हिस्सा

कल श्री मोदी की रैली में खाली रहा। मोदी की रैली और श्री मोदी का भाषण जारी रहने के

बीच ही अनेक लोग सभास्थल छोड़कर जा चुके थे। लेकिन इसके बाद भी चुनावी रणनीति

से जुड़े भाजपा नेता मोदी की रैली में कम भीड़ को लेकर चिंतित नहीं हैं। वे मानकर चल

रहे हैं कि इस बार पश्चिम बंगाल में कमल फूल खिलने जा रहा है। भाजपा नेता तर्क दे रहे

हैं कि इस राज्य में सबसे प्रमुख विरोधी दल के तौर पर अब भाजपा की ताकत को कोई

नजरअंदाज नहीं कर सकता है। इसलिए ममता शासन से नाराज मतदाताओं का समर्थन

भाजपा को ही प्राप्त होने जा रहा है।

मोदी की रैली की तुलना अब ममता की रैली से होने लगी

पीएम की रैली कोलकाता में चलने के दौरान ही सिलिगुड़ी में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी भी

अपनी रैली में भाग ले रही थीॆ। अब पश्चिम बंगाल में इन दोनों रैलियों की तुलना होने

लगी है। चैनलों पर सारी सूचनाएं नहीं होने की वजह से लोग अब सोशल मीडिया के सहारे

दोनों रैलियों की वास्तविक स्थिति का आकलन कर रहे हैं। 

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from HomeMore posts in Home »
More from चुनाव 2021More posts in चुनाव 2021 »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from नेताMore posts in नेता »
More from पश्चिम बंगालMore posts in पश्चिम बंगाल »
More from राजनीतिMore posts in राजनीति »

Be First to Comment

... ... ...
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: