fbpx Press "Enter" to skip to content

विधानसभा सत्र के पहले दिन लकड़ी का चूल्हा और जलावन लेकर पहुंचे विपक्ष के विधायक

  •  राज्यपाल के अभिभाषण के बाद सत्र का हुआ शुरुआत
  •  अभिभाषण में केंद्र व राज्य सरकार के उपलब्धियों का अंबार
  •  सत्र के पहले ही दिन विपक्ष सरकार को घेरने की पुरजोर तैयारी में

रूपेश रंजन सिन्हा

पटना :  विधानसभा के बजट सत्र के पहले दिन शुक्रवार को विपक्षी दल के विधायकों के

तेवर बता रहे हैं कि 24 मार्च तक चलने वाले इस सत्र में विपक्ष कई मुद्दों को लेकर सरकार

को घेरने की पुरजोर तैयारी में है। बजट सत्र के पहले दिन कांग्रेस औरराजद के विधायक

लकड़ी का चूल्हा, जलावन लेकर विधानसभा परिसर पहुंचे। राजद के विधायक मुकेश

रौशन पेट्रोलियम पदार्थों के मूल्य में हो रही वृद्धि के विरोध में साईकिल से विधानसभा

परिसर पहुंचे, तो कांग्रेस के विधायक अजीत शर्मा विधायक प्रतिमा कुमारी और शकील

अहमद लकड़ी का चूल्हा और जलावन लेकर सत्र के पहले दिन विधानसभा पहुंचे। बिहार

विधानसभा का बजट सत्र शुरू होने से पहले सेंट्रल हाल में विधानमंडल का जॉइंट सेशन

हुआ। जिसमें बिहार के राज्यपाल फागु चौहान पहुंचे और उन्होंने सदस्यों को संबोधित

किया। राज्यपाल फागु चौहान ने बिहार सरकार की तारीफों के पुल बांधते हुए कहा कि

2020 वैश्विक महामारी से पीड़ित वर्ष रहा है। पूरा देश और बिहार राज्य इससे प्रभावित

रहा है। इस महामारी के दौरान लोगों को राहत पहुंचाई गई। उन्होंने कहा कि महामारी से

निपटने के लिए 10 हजार करोड़ रुपए से अधिक राशि खर्च की गई है। केंद्र सरकार से पूरा

सहयोग मिला। राज्य में 2 करोड़ से अधिक जांच की गई है। कोविड से मौत पूरे देशभर मे

1.4 फीसदी है वहीं बिहार में 0.8% है। उन्होंने कहा कि हर जिले में एक मेगा स्किल सेंटर

खोला जाएगा। हर प्रमंडल में एक प्रशिक्षण केंद्र खोला जाएगा। राज्य का सांस्कृतिक

विकास हो, इसके प्रयास किए जा रहे हैं। हर खेत को सिंचाई का पानी मुहैया कराया

जाएगा। साथ ही गांव के साथ शहरों के विकास के लिए राज्य सरकार संकल्पित है। हर

घर नल का जल पहुंचाया जा रहा है। अब नल का जल की रखरखाव की नीति बनाई गई

है।

विधानसभा के बजट सत्र में राज्यपाल फागु चौहान ने कहा कि

राज्यपाल फागु चौहान ने कहा कि शहरों में कचरा प्रबंधन की व्यवस्था की जाएगी। गरीबों

को बहुमंजिला भवन बनाकर आवास दिया जाएगा। सभी शहरों में विद्युत शवदाहगृह का

निर्माण कराया जाएगा। शहरों में वृद्ध जनों के लिए आश्रय स्थल बनाया जाएगा। इसके

अलावा 109 नए नगर पंचायतों का गठन किया गया है। पटना में मेट्रो रेल का निर्माण

तेजी से किया जा रहा है। साथ ही राज्य में बेहतर स्वास्थ्य सेवाओं का विकास किया

जाएगा। पांच पंचायत पर एक अस्पताल का निर्माण कराया जाएगा। टेली-मेडिसिन के

जरिए भी लोगों का इलाज किया जाएगा। जिन बच्चों के हृदय में छेद है, उनका इलाज

सरकार कराएगी। पशुओं की चिकित्सा मोबाइल यूनिट के जरिए किए जाने की भी योजना

है। सरकार गोवंश विकास संस्थान की स्थापना की जाएगी। वही, किसानों के मुद्दों पर बात

करते हुए राज्यपाल ने कहा कि किसानों की आय राज्य में बढ़ी है, कोरोना के दौरान

किसानों को घर पर बीज पहुंचाया गया है। राज्य सरकार जैविक खेती को बढ़ावा दे रही है।

राज्य में गंगा के किनारे के 13 जिलों में खेती करवाई जा रही है। इस साल अब तक 6

करोड़ पशुओं का टीकाकरण किया गया है। मछली उत्पादन में राज्य देश मे चौथे स्थान

पर पहुंच गया है। वहीं कांग्रेस की महिला विधायक प्रतिमा कुमारी ने कहा कि महंगाई के

कारण गृहस्थी चलाना अब मुश्किल हो गया है। रसोई गैस की कीमतें आसमान छू रही हैं,

घर में अब चूल्हा कैसे जलेगा, महिलाओं के सामने यह बड़ा सवाल है। उन्होंने इसके लिए

केंद्र और राज्य सरकार की गलत नीतियों को दोषी ठहराया।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from नेताMore posts in नेता »
More from बिहारMore posts in बिहार »

Be First to Comment

... ... ...
%d bloggers like this: