fbpx Press "Enter" to skip to content

मेट्रो मैन ई श्रीधरण को सीएम का प्रत्याशी बनाने का प्रस्ताव भेजा

  • केरल का किला फतह करने की नई चाल

  • प्रदेश नेतृत्व में केंद्र तक इसका प्रस्ताव भेजा

  • पिछले सप्ताह ही भाजपा में योगदान किया है

  • केरल की विकास की कई योजनाएं हैं उनके पास

राष्ट्रीय खबर

तिरुअनंतपुरमः मेट्रो मैन ई श्रीधरण को भाजपा केरल में मुख्यमंत्री पद का प्रत्याशी बनाने

जा रही है। केरल में इसके जरिए भारतीय जनता पार्टी चुनावी रुख को अपनी तरफ मोड़ना

चाहती है। इस बारे में भाजपा की प्रदेश इकाई से यह जानकारी सामने आयी है। भाजपा

प्रदेश अध्यक्ष ने इस प्रस्ताव का संकेत भी दिया है। दूसरी तरफ केंद्रीय मंत्री वी मुरलीधरण

ने इस बारे में अपनी बात भी रखी है। वैसे पार्टी की तरफ से यह स्पष्ट किया गया है कि

इस बारे में अभी कोई अंतिम फैसला नहीं लिया जा सकता है। यह अंतिम निर्णय पार्टी के

केंद्रीय नेतृत्व पर छोड़ दिया गया है। वैसे इसके पूर्व में भी भाजपा में योगदान करते वक्त

ही मेट्रो मैन ने अपनी सोच को साकार करने की अपनी योजनाओं का खुलासा कर दिया

था। उन्होंने साफ कर दिया था कि मुख्यमंत्री के स्तर पर काम किये बिना उनके मन में

केरल के लिए जो योजनाएं हैं, उन्हें अमली जामा पहनाने में कठिनाई होगी। उनके इस

बयान के बाद ही ही उनकी लोकप्रियता का लाभ उठाने की कवायद भाजपा खेमा मे प्रारंभ

हो चुकी थी। केरल का चुनाव पूर्व सर्वेक्षण सामने आने के बाद पांसा पलटने के लिए

भाजपा एड़ी चोटी का जोर लगा रही है। इसके तहत ई श्रीधरण के नाम पर केरल में

निश्चित तौर पर असर हो सकता है, यह स्पष्ट है। इसके बीच ही यह स्पष्ट होता जा रहा

है कि सभी राजनीतिक दल फिलहाल मतदाताओं के बदले धर्मगुरुओं से अधिक मिल रहे

हैं और उस स्तर पर वोट बैंकों को अपने पक्ष में करने की कोशिशों में जुटे हैं। केंद्रीय मंत्री

मुरलीधरण ने अपने पूर्व के बयान पर स्पष्टीकरण देते हुए ट्विट भी किया है। 

मेट्रो मैन का नाम किसी परिचय का मोहताज नहीं

जिसमें कहा गया है कि हम केरल राज्यम सीपीएम और कांग्रेस दोनों को एक साथ 

पछाड़ना चाहते हैं। इसी वजह से मेट्रो मैन को कमान सौंपने की बात हो रही है ताकि

केरल के लोगों को भाजपा के विकास मॉडल से रुबरु कराया जा सके।

देश में मेट्रो सेवा को एक नई ऊंचाई देने के लिए ई श्रीधरण का नाम विश्वविख्यात है। इस

लिहाज से वह किसी परिचय के मोहताज भी नहीं हैं। भाजपा के केंद्रीय नेतृत्व के पास ई

श्रीधरण का नाम अग्रसारित करने के बाद स्थानीय भाजपा नेतृत्व इसकी तैयारियों में भी

जुटा हुआ है। बताते चलें कि मेट्रो मैन के तौर पर प्रसिद्ध श्रीधरण पिछले सप्ताह ही भाजपा

में शामिल हुए हैं। हाल के दिनों में मात्र पांच महीने में एक खास किस्म के ब्रिज बनाकर भी

वह चर्चा में आये हैं। भाजपा के कई प्रदेश स्तरीय नेता भी श्रीधरण के नाम को अपना

समर्थन दे चुके हैं। केरल में भाजपा यह मान रही है कि पिनरई विजयन की सरकार को

पछाड़ने के लिए श्रीधरण जैसे चर्चित नाम को आगे करना राजनीतिक आवश्यकता है।

इसी वजह से काफी सोच समझकर केंद्रीय नेतृत्व के पास उनका नाम ही मुख्यमंत्री पद के

प्रत्याशी के तौर पर स्वीकार करने का यह प्रस्ताव भेजा गया है।

श्रीधरण ने साफ कर दिया है कि विकास की उनकी अपनी सोच है

चुनाव लड़ने की अपनी इच्छा व्यक्त करने के साथ साथ मेट्रो मैन ने साफ कर दिया है कि

वह पोनानी के करीब की किसी सीट पर लड़ना चाहते हैं क्योंकि वह अभी पोनानी में रह रहे

हैं। उन्होंने दो टूक लहजे में यह भी कह दिया है कि वह पेशेवर राजनीतिज्ञ नहीं हैं इसलिए

उनके काम करने का तरीका भी आम राजनीतिज्ञों की तरह नहीं होगा। वह अपने अनुभव

के आधार पर एक टेक्नोक्रेट की तरह राजनीति में भी काम करना चाहते हैं। इसमें हर

काम की अपनी जिम्मेदारी और समय सीमा पहले से निर्धारित होती है।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from HomeMore posts in Home »
More from केरलMore posts in केरल »
More from चुनाव 2021More posts in चुनाव 2021 »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »

One Comment

  1. […] मेट्रो मैन ई श्रीधरण को सीएम का प्रत्य… केरल का किला फतह करने की नई चाल प्रदेश नेतृत्व में केंद्र तक इसका प्रस्ताव भेजा पिछले … […]

... ... ...
%d bloggers like this: