fbpx Press "Enter" to skip to content

सांसद निशिकांत दुबे का बाबाधाम में जबरन घुसने का विरोध

  • निकासी द्वार से दबंगई दिखाकर घुसे थे

  • पंडों की समिति को जानकारी मिली

  • विरोध के बाद धरने पर बैठे सांसद

  • सांसद के विरोध में नारे भी लगे

देवघरः सांसद निशिकांत दुबे को आज यहां बाबा वैद्यनाथ धाम में जबरन घुसने के

प्रयास में जोरदार विरोध का सामना करना पड़ा। दरअसल सांसद मंदिर के निकासी द्वार

से ही मंदिर के अंदर प्रवेश करना चाह रहे थे। श्री दुबे के साथ मौजूद लोगों में से कुछ लोगों

ने इस क्रम में दबंगई दिखाना का भी प्रयास किया। इससे मामला और बिगड़ गया। वहां

रोके जाने के बाद विरोध में खुद सांसद भी करीब पंद्रह मिनट तक धरने पर बैठे रहे। इस

बीच पंडा धर्मरक्षिणी सभा ने उनके आचरण का विरोध किया।

गोड्डा के सांसद निशिकांत दुबे ने रोक के बावजूद निकास द्वार से बाबा मंदिर प्रवेश

किया था। इसकी खबर जब स्थानीय तीर्थपुरोहित समाज में फैलने के साथ ही देवघर के

तीर्थपुरोहितों के संगठन पंडा धर्मरक्षिणी सभा ने इसका विरोध किया। यह घटना सांसद

के मंदिर से पूजा कर वापस आने के क्रम में घटित हुई। सांसद का विरोध किये जाने से

तिलमिलाये सांसद मंदिर के निकास द्वार पर बैठ गए। हालांकि इस दौरान वहां उपस्थित

भीड़ ने सांसद के विरोध में नारेबाजी की। घटना की सूचना मिलने पर वहां उपस्थित

प्रशासनिक अधिकारियों ने सांसद को वहां से उठा दिया। पंडा धर्मरक्षिणी सभा के महामंत्री

कार्त्तिक नाथ ठाकुर ने सांसद के इस कृत्य की निंदा की है और कहा है कि जब मंदिर के

निकास द्वार से प्रवेश पूर्ण रुप से प्रतिबंधित है तो गोड्डा सांसद इस नियम को क्यों नहीं

मानते हैं? बहरहाल, सबसे बड़ा सवाल प्रशासन पर खड़ा होता है। आखिर बाबा मन्दिर में

शिवरात्रि के दिन उमड़ी भारी भीड़ के बावजूद सांसद निकास द्वार से कैसे प्रवेश कर गए।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from झारखंडMore posts in झारखंड »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from विधि व्यवस्थाMore posts in विधि व्यवस्था »

Be First to Comment

Leave a Reply

Open chat
Powered by