fbpx Press "Enter" to skip to content

मई दिवस के अवसर पर कई स्थानों पर कार्यक्रम का आयोजन

रामगढ़ः मई दिवस के अवसर पर शनिवार को भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के राष्ट्रीय

परिषद के सदस्य झारखंड राज्य के सह सचिव महेंद्र पाठक हजारीबाग के कई जगहों पर

पार्टी के लाल झंडा फहरा कर मनाया मजदूर दिवस मनाया। आज मजदूर दिवस के

अवसर पर सुबह अपने आवास पर लाल झंडा फहरा कर गरीब मजदूरों के बीच मिठाइयां

बांटी। मई दिवस के मौके पर मांडू पार्टी कार्यालय हजारीबाग के मंजूर भवन जिला

कार्यालय, रामगढ़ बस स्टैंड एवं जिला कार्यालय सहित कई जगहों पर लाल झंडा फहरा

कर मजदूरों के हक अधिकार के लिए शहादत देने वालों को सलामी दिया। भाकपा नेता ने

कहा कि केंद्र की मोदी सरकार मजदूरों किसानों की अधिकार को छीन रही है। इसीलिए

मजदूरों के संघर्ष और बलिदान के बल पर अमेरिका के शिकागो शहर में सन 18 सौ 86 में

हजारों मजदूरों की शहादत के बाद 8 घंटे, काम 8 घंटे आराम और 8 घंटा मनोरंजन के

लिए संवैधानिक अधिकार मजदूरों को मिला था लेकिन केंद्र की मोदी सरकार उद्योगपति

और पूंजी पतियों के दबाव में उनको अधिक लाभ पहुंचाने के लिए मजदूरों की खून और

पसीने को बेच दिया। अब 12 घंटे काम के लिए कानून संसद में पास हो चुकी है, बहुत

जल्द ही वह कानून लागू हो जाएगा। सरकार 44 श्रम कानूनों को मात्र चार कोड में

बदलकर चुनाव में पूंजीपतियों से किए गए वादे को पूरा किया और मजदूरों के पेट पर लात

मारने के काम किया। उन्होंने कहा की तीनों किसान विरोधी कानून भी बड़े-बड़े पूंजी

पतियों के लिए सरकार बनाई है। 14 महीने से देश में किसानों के आंदोलन चरम पर है।

दिल्ली की चारों बॉर्डर पर लाखों किसान अपनी मांगों के समर्थन में बैठे हुए हैं। 500 से

अधिक लोगों की शहादत हो चुकी है लेकिन मोदी सरकार पूंजीपतियों के तलवे चाटने में

व्यस्त है।

मई दिवस के अवसर पर केंद्र सरकार की खामियां गिनायी

सरकार को किसानों से बात करने के लिए समय नहीं मिल रही है। उद्योगपतियों के दबाव

में सरकार जनविरोधी फैसले लगातार लेते जा रही है। मोदी सरकार के कारण 1 साल से

अधिक दिनों से देश की जनता कराह रही है। सरकार अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड

ट्रंप को देश में लाकर कोरोना महामारी का बढ़ावा दिया, तो अब पांच राज्यों के चुनाव में

सरकार ने नंगा नाच किया , भूल गए कि कोविड-19 महामारी के कोई गाइडलाइन है, जब

प्रधानमंत्री ही नंगे नाच करते हो तो देश के आम जनता को क्या है। आज देश मोदी की

गलतियों के कारण जल रहा है, मोदी जी ने कहा था कि गांव गांव में कब्रिस्तान है तो

श्मशान क्यों नहीं, उनके अरमान आज पूरा होते दिख रहा है और हर मुहल्ले में श्मशान

बना हुआ है। 18 महीने का समय कोई काम नहीं था। हजारों करोड़ रुपए पीएम केयर्स फंड

में मिला, सरकार दुरुपयोग करती रही, लेकिन आज जीवन रक्षक दवाओं और ऑक्सीजन

, हॉस्पिटल और बेड के लिए लोग तरस रहे हैं। मोदी सरकार को अविलंब इस्तीफा दे देनी

चाहिए। सुप्रीम कोर्ट अपने गाइडलाइन में देश को चलाएं, क्योंकि देश में जो संवैधानिक

सरकार गद्दी पर बैठी है, वह सरकार भी शासन करने में असफल रही है। आज मई दिवस

के अवसर पर भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी मांग करती है की लॉक डाउन की समय में

आर्थिक रूप से कमजोर लोगों के भरण पोषण के लिए 7500 रूपया प्रति माह आर्थिक

सहायता दिया जाए , सभी जरूरतमंद लोगों के घरों में जन उपयोगी आवश्यक वस्तुओं को

घर-घर पहुंचाया जाए।

लोगों को राहत देने के बदले पूंजीपतियों का तलवा चाट रही सरकार

गांव गांव में महिला समितियां या छोटे छोटे व्यवसाई वर्ग के लोग जो महामारी का दंश

झेल रहे हैं, उनसे बैंकों के ऋण वसूली पर रोक लगाई जाए , आर्थिक रूप से कमजोर लोगों

को सरकारी खर्चे पर कोरोना महामारी का इलाज कराया जाए, कालाबाजारी और बेतहाशा

बढ़ती हुई महंगाई पर रोक लगाई जाए, किसान मजदूर विरोधी काले कानून को निरस्त

की जाए। कामरेड पाठक ने मजदूर दिवस के अवसर पर लोगों से अपील करते हुए कहा कि

मई दिवस  पर हम सभी लोग संकल्प लें कि देश को बचाने के लिए सभी राजनीतिक

मतभेदों को भूलकर एक मंच पर आकर कोविड-19 करोना महामारी से लड़ने के लिए गोल

बंद हो। झंडोत्तोलन में भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी झारखंड राज्य के सहायक सचिव महेंद्र

पाठक, सतीस प्रसाद , मंटू कुमार, महेंद्र प्रजापति मुखिया ,विनय झा ,संजय गोईनका,

अमन पाठक, छोटू पाठक, मो आलम सहित कई लोग मौजूद थे ।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from HomeMore posts in Home »
More from इतिहासMore posts in इतिहास »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from रामगढ़More posts in रामगढ़ »

Be First to Comment

... ... ...
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: