fbpx Press "Enter" to skip to content

जन धन खाते से सहायता राशि निकालने के लिए उमड़ी भीड़

बेरमो /कथाराः जन धन खाते में सरकार द्वारा भेजे गये पैसे को निकालने के लिए बैकों में

भीड़ लगी रही। कोरोना की बढ़ती संक्रमण को देखते हुए पिछले 13 दिनो से पुरे देश में

लॉकडाउन लगा हुआ है और सख्ती के साथ लोगो से सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करवाया

जा रहा है। इस कार्य में सभी थानों की पुलिस अपनी पूरी ताकत झोंक दी है। इस नियम के

पालन करने मे क्षेत्र के मिडिया कर्मी, बुद्धिजीवी, व सभी जागरूक तबका अपने अपने

तरीके से लॉकडाउन व सोशल डिस्टेंसिंग बनाये रखने की अपील मे जुटे दिख रहे है मगर

गोमिया व कथारा मे उस समय उपरोक्त आदेशो की धज्जियां उड़ती दिखी जब मंगलवार

को बैंक खुला, बैंक खुलते ही क्षेत्र के सभी बैंक के बाहर सैकड़ों की संख्या में भीड़ जमा हो

गई जिसमे अधिक भीड़ महिलाओं की देखी गई। बताता चलू कि कथारा स्थित एसबीआई,

बैंक ऑफ इंडिया व क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक खुलते ही उक्त भीड़ देखने को मिली। ज्ञात हो कि

यह भीड़ उस पैसे निकासी के लिए जमा हुई थी जो केन्द्र सरकार द्वारा इस आपदा की

घड़ी में खुले जनधन खाते में डाले गये थे। पांच सौ की सहयोग राशि निकालने के लिए

इतनी भीड़ जमा हुई कि स्थानीय पुलिस के लाख प्रयासों के बाद भी भीड़ पर नियंत्रण नही

हो पा रही थी।

जन धन खाता के पुरुषों को हटाया लेकिन महिलाओं से परेशानी

पुरुषों को हटाने मे तो पुलिस कामयाब हो रही थी मगर महिलाओ को हटाने मे पुलिस के

पसीने छुट रहे थे और यह स्थिति महिला पुलिस के अभाव के कारण उत्पन्न हुई थी।

बताता चलू कि कारण कुछ भी हो सरकार के सहायता राशि की घोषणा ही आज लॉकडाउन

व सोशल डिस्टेंसिंग तोड़ने का कारण साबित हुआ। इस घटना ने यह साबित कर दिया कि

अगर उपरोक्त सहायता राशि की वितरण के तौर तरीके नही बदली गई तो कोरोना नामक

खतरे का और अधिक तेजी से फैलने का खतरा बढ़ जायेगा।


 

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from झारखंडMore posts in झारखंड »

One Comment

Leave a Reply

error: Content is protected !!
Open chat