fbpx Press "Enter" to skip to content

भाजपा के अनेक नेता अनौपचारिक तौर पर मानते हैं कि पार्टी की छवि बिगड़ी

  • अर्णव की चैट ने चुप करा दी है भाजपा नेताओं को

  • सवाल सुनकर ही हट गये अनेक नेता

  • इतने गंभीर विषय पर चुप्पी अजीब सी

  • किसने दी सूचना पर भाग गये अनेक नेता

राष्ट्रीय खबर

नईदिल्लीः भाजपा के अनेक नेता अर्णव गोस्वामी और किसान आंदोलन पर अब खुलकर

बोलने से कतराने लगे हैं। इसी अर्णव गोस्वामी को जब गिरफ्तार किया गया था तो

भाजपा का शीर्ष नेतृत्व खुलकर उसके समर्थन में आ गया था। जमानत मिलने के बाद

जब अर्णव जेल से रिहा हुए तो उसकी रैली कुछ ऐसी थी मानों कोई सैनिक युद्ध जीतकर

आया है। भाजपा के अनेक नेता इस  फैसले को न्याय की जीत मान रहे थे। अब मुंबई

पुलिस द्वारा चार्जशीट दाखिल किये जाने के बाद भाजपा के अनेक नेता इस पर नये सिरे

से बयान देने से कतराने लगे हैं। आम तौर पर राष्ट्रीय सुरक्षा के हर विषय पर बोलने वाले

वक्तव्य वीर नेता भी कन्नी काट रहे हैं। मजेदार स्थिति यह है कि मुख्य धारा के चैनल भी

इस सवाल पर कोई बहस तक नहीं करते क्योंकि उन्हें भय है कि अर्णव के साथ साथ

उनके दामन पर भी छींटे पड़ सकते हैं क्योंकि मुंबई पुलिस का यह पूरा मामला ही

टीआरपी की रेटिंग से संबंधित है।

भाजपा के अनेक नेता औपचारिक चर्चा के लिए तैयार नहीं

इस बार में एक नहीं अनेक नेताओं से चर्चा की गयी। सभी इस बारे में औपचारिक बयान

देने से इंकार करते हैं। अनौपचारिक तौर पर सभी मानते हैं कि पुलिस की चार्जशीट में जो

कुछ तथ्य होने की बात सामने आयी है, उससे तो यही लगता है कि अर्णव गोस्वामी ने

भाजपा को भी अपनी जागीर समझ रखा था। बड़े नेताओं के बारे में उसने जो कुछ कहा है,

उससे साफ है कि अर्णव एक स्वार्थी व्यापारी है, जिसके दिल में पार्टी के बड़े नेताओं के

लिए कोई सम्मान कभी नहीं रहा है। क्योंकि अगर कोई लिहाज अथवा सम्मान होता तो

वह बीएआरसी के चैयरमैन पार्थों से नेताओं के बारे में इस किस्म की बात चीत तो कतई

नहीं करता।

अर्णव को जानकारी किसने दी के सवाल पर अधिकांश नेता मोर्चा छोड़कर भाग खड़े हुए

हैं। बातचीत अनौपचारिक होने के बाद भी लोगों ने इस सवाल पर आगे चर्चा करना ही

मुनासिब नहीं समझा। जो चंद लोग किसी तरह टिके रहे, उन्होंने सीधा नहीं तो इशारों की

इशारों में यह स्वीकार कि शक की सूई सीधे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तरफ ही है। वरना

इस किस्म की अत्यंत गोपनीय सूचना जिनके पास होती है, उनसे इस किस्म के

खतरनाक गलती की उम्मीद नहीं की जा सकती है।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from HomeMore posts in Home »
More from एक्सक्लूसिवMore posts in एक्सक्लूसिव »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from दिल्लीMore posts in दिल्ली »
More from रक्षाMore posts in रक्षा »
More from राजनीतिMore posts in राजनीति »

Be First to Comment

... ... ...
%d bloggers like this: