Press "Enter" to skip to content

दक्षिण कोलकाता की भवानीपुर सीट से लड़ेगी ममता बनर्जी

Spread the love



  • राष्ट्रीय खबर

कोलकाताः दक्षिण कोलकाता की भवानीपुर सीट से ममता बनर्जी का चुनाव लड़ना तय




है।   ममता बनर्जी के भवानीपुर सीट से चुनाव लड़ने की तैयारियां तृणमूल कांग्रेस ने आज

से ही प्रारंभ कर दी है। दरअसल चुनाव आयोग द्वारा सात सीटों पर उपचुनाव कराने केपूर्व

की तैयारियों को पूरा करने का एलान के तुरंत बाद यह काम प्रारंभ हो गया है। वैसे भी यह

पहले से ही तय हो चुका था नंदीग्राम में चुनाव हार जाने के बाद ममता को इसी सीट से

चुनाव लड़ाया जाएगा। इस सीट पर विजयी टीएमसी विधायक शोभनदेव ने इसी मकसद

से पहले ही इस्तीफा दे दिया है। वह खुद चाहते हैं कि ममता बनर्जी अपनी पारंपरिक सीट

दक्षिण कोलकाता की इस भवानीपुर से चुनाव लड़े। मुख्य निर्वाचन अधिकारी अरीज

आफताब ने शुक्रवार को जिला मतदान अधिकारियों को चिट्ठी लिखी है और उनसे ईवीएम

और वीवीपैट मशीन चेक करने को कहा है। बताया गया है कि यह खत पश्चिम बंगाल

राज्य में होनेवाले आगामी उपचुनाव को देखते हुए लिखा गया है। कुल सात सीटों पर

उपचुनाव होना है। मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने दक्षिण कोलकाता समेत पांच जिलों के

पोलिंग अधिकारियों को यह चिट्ठी भेजी है। इससे पहले टीएमसी का एक प्रतिनिधिमंडल

चुनाव आयोग ऑफिस पहुंचा था और पश्चिम बंगाल में उपचुनाव कराए जानेको लेकर

सवाल पूछा था। मुख्य निर्वाचन अधिकारी नेसभी जिला अधिकारियों को खत मेंकहा,




मुझे निर्देशित किया गया है कि ईवीएम और वीवीपैट मशीन की पहले लेवल की जांच पूरी

की जाए।

दक्षिण कोलकाता की सीट से शोभनदेव ने दिया है इस्तीफा

जिससे कि प्रदेश मेंउपचुनाव 2021 कराए जा सकें। बता दें, पश्चिम बंगाल में सात

विधानसभा सीटों पर उपचुनाव होना है। ये सीटें हैं- जंगीपुर, शमशेरगंज, खर्धा, भवानीपुर,

दिनाहाटा, शांतिपुर और गोशाबा। जंगीपुर और शमशेरगंज विधानसभा सीट पर चुनाव से

पहले ही दो उम्मीदवारों की मौत हो गई थी। इनमें से एक उम्मीदवार टीएमसी से थे तो

दूसरे कांग्रेस से जबकि खर्धा और गोशाबा विधानसभा सीट से जीतने वाले टीएमसी

प्रत्याशियों की चुनाव पूर्व कोरोना से मौत हो गई थी। वहीं शांतिपुर और दिनाहाटा

विधानसभा सीट से जीतने वाले दोनों बीजेपी विधायकों ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया।

क्योंकि ये दोनों नेता- जगन्नाथ सरकार और निशिथ प्रमाणिक अपनी सांसद सीट को

बनाए रखना चाहते थे। निशिथ प्रमाणिक को हाल ही में मोदी कैबिनेट में जगह दी गई है।

चुनाव आयोग के मुताबिक चिट्ठी में ईवीएम और वीवीपैट मशीन को चेक करने और अन्य

तैयारी पूरी करने को कहा गया है। हालांकि उपचुनाव को लेकर अब तक किसी तारीख की

घोषणा नहीं की गई है।



More from HomeMore posts in Home »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from पश्चिम बंगालMore posts in पश्चिम बंगाल »

4 Comments

Leave a Reply