Press "Enter" to skip to content

अवैध लॉटरी के गोरखधंधे में 12 गिरफ्तार, मुख्य सरगना फरार




दुमकाः अवैध लॉटरी और डूप्लीकेट लॉटरी के कारोबार में संलिप्त 12 लोगों को गिरफ्तार कर मंगलवार को नगर थाना पुलिस जेल भेज दी। गिरफ्तार आरोपियों में मो सद्दाम, मो आबिद, मो नियाज मसूरी, मो अलाउद्दीन, मो तौसीफ, मो अख्तर, मो डब्लू अंसारी और नीरज कुमार बैरा है।




सभी नगर थाना क्षेत्र के दुधानी समेत विभिन्न मुहल्लेवासी है। इसकी जानकारी प्रेसवार्ता कर एसडीपीओ, सदर मो नूर मुस्तफा ने दी। उन्होंने बताया कि पुलिस को गुप्त सूचना मिली थी कि अवैध तरीके से ऑनलाईन लॉटरी का खेल खेलाया जा रहा है। पुलिस टीम गठित कर बस स्टैंड और दुधानी में छापेमारी की।

बस स्टैंड से 8 लोग और दुधानी से चार लोग को पुलिस गिरफ्तार करने में सफल रही। पुलिस छापेमारी कर दुधानी स्थित निरोज बैरा के घर से छापेमारी कर भारी मात्रा में अवैध लॉटरी का टिकट, 1800 रूपये नगद, 8 मोबाईल बरामद की। पूछताछ में गिरफ्तार लोगों ने मुख्य सरगना पकंज वर्मा, संदीप वर्मा और दीपक साह के देख-रेख में लॉटरी की अवैध खेल खेलाने की बात स्वाकारी है।

वहीं बस स्टैंड में रोनित मोबाईल रिपेयरिंग सेंटर दुकान की आड़ में अवैध धंधे करते चार लोग को पुलिस दबोची। जिसमें रोहित केसरी, कमरूद्दीन शेख, अमीरचंद और अमित रंजन है। पुलिस मोबाईल दुकान से 20 हजार नगदी और तीन मोबाईल बरामद की।




अवैध लॉटरी के सामान भी बरामद हुए थे

पुलिस को गिरफ्तार आरोपियों ने बताया कि संजय सिंह उर्फ पादू और खुदीलाल उर्फ संजय सिंह के देखरेख में अवैध लॉटरी के धंधे को फलने-फुलने की बात स्वीकारी है। पुलिस अवैध लॉटरी के गोरखधंधे में छापेमारी के दौरान 27,493 रूपये नगद, 11 मोबाईल, एक कलकुलेटर और 6 कॉपी बरामद की है।

एसडीपीओ ने बताया कि फरार सरगना जल्द पुलिस की पकड़ में होंगे। पुलिस अवैध लॉटरी के खेल के सरगना की छापेमारी को लेकर जगह-जगह छापेमारी कर रही है। जल्द ही फरार आरोपी को पुलिस गिरफ्तार कर सलाखों के पीछे भेजने का दावा की है। इधर पुलिस के कार्रवाई गिरफ्तार लोगों के परिजनों में काफी आक्रोश देखा गया।

लोगों ने पुलिस पर गुमराह करने और गौरखधंधे के खेल में संलिप्त मुख्य कारोबारी को बचाने का आरोप लगाते हुए थाना गेट पर हंगामा करते रहे। परिजनों ने खेल खेलाने वाले का गिरफ्तारी करने का मांग कर रहे थे। बाद में थाना प्रभारी देवव्रत पोद्दार के मुख्य सरगना को जल्द से गिरफ्तारी के आश्वासन पर माने।



More from अपराधMore posts in अपराध »

Be First to Comment

Leave a Reply

%d bloggers like this: