Press "Enter" to skip to content

महाराष्ट्र के मंत्री ने एनसीबी की रेड पर उठा दिये सवाल, वीडियो भी दिखाया




भाजपा नेता के साले को छोड़ा क्यों गया
राष्ट्रीय खबर

मुंबईः महाराष्ट्र के मंत्री नवाब मलिक ने आज एक प्रेस कांफ्रेस आयोजित कर एनसीबी की छापामारी के असली मकसद पर सवाल खड़े कर दिये। वह प्रारंभ से ही किसी साजिश के तहत इस छापामारी का आरोप लगाते आ रहे थे।




आज उन्होंने अपने आरोपों के समर्थन में वीडियो भी जारी कर दिये, जिसमें यह नजर आता है कि एनसीबी ने वहां से गिरफ्तार युवकों में से तीन लोगों को बाद में छोड़ दिया था। इनकी पहचान के बारे में भी महाराष्ट्र के मंत्री ने कहा है कि एक तो भाजपा के पूर्व युवा मोर्चा अध्यक्ष का साला है।

मोहित कंबोज नामक इस नेता के रिश्तेदार ऋषभ सचदेव को दिल्ली से फोन आने की वजह से छोड़ा गया है। इस संबंध में उनका कहना है कि पूरी छापामार की प्रक्रिया ही भाजपा नेताओं के निर्देश पर हो रही थी और उसका असली मकसद कुछ और ही है।

श्री मलिक ने कहा कि यह तो पुलिस को भी पता है कि जहां एनसीबी टीम ने छापा मारा था, वहां से 11 लोग हिरासत में लिये गये ते। इनमें से ऋषभ के अलावा प्रतीक गावा और अमर फर्नीचरवाला को भी एनसीबी ने छोड़ दिया है।

इस बारे में एनसीबी के निदेशक ने गोलमटोल बयान जारी कर बताया है कि वहां से आठ दस लोग गिरफ्तार किये गये थे। छापामारी के दौरान जिस क्रूज पर लोग पकड़े गये थे, उनकी सही संख्या बताने से भी एनसीबी के निदेशक समीर वानखेडे हिचक गये थे।




मुंबई पुलिस को इस बात की जानकारी थी कि वहां से 11 लोग पकड़े गये हैं। अपनी बात कहने के साथ साथ श्री मलिक ने तीन लोगों को छोड़े जाने का वीडियो भी जारी कर दिया।

महाराष्ट्र के मंत्री मलिक ने कहा भाजपा के इशारे पर 

उनके मुताबिक जब ऋषभ को छोड़ा गया तो उनके पिता उसके साथ थे। शेष दो लोगों को भी कुछ ही देर बाद छोड़ दिया गया।

ऐसा तब हुआ जबकि इन्ही तीन लोगों ने अन्य लोगों को इस पार्टी के लिए आमंत्रित किया था। इसी वजह से इस पूरे प्रकरण मे साजिश की बू आ रही है और अन्य साक्ष्य भी बता रहे हैं कि यह पूरी कार्रवाई ही भाजपा के इशारे पर हुई है

ताकि देश का ध्यान मुंदड़ा बंदरगाह पर हुई छापामारी के लिए जिम्मेदार लोगों पर से देश का ध्यान हट जाए।



More from HomeMore posts in Home »
More from अपराधMore posts in अपराध »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from बयानMore posts in बयान »
More from महाराष्ट्रMore posts in महाराष्ट्र »
More from राजनीतिMore posts in राजनीति »

2 Comments

Leave a Reply

Mission News Theme by Compete Themes.
%d bloggers like this: