fbpx Press "Enter" to skip to content

मध्यप्रदेश के बहुचर्चित हनी ट्रैप की पांचों महिलाओं जेल गयी

इंदौरः मध्यप्रदेश के बहुचर्चित हनीट्रैप मामले में गिरफ्तार पांचों महिला आरोपियों को

आज इंदौर की एक अदालत ने आगामी 14 दिनों की न्यायिक अभिरक्षा में जेल भेज दिया है।

जिला अभियोजन अधिकारी मोहम्मद अकरम शेख के अनुसार पांचों आरोपियों की स्वीकृत पुलिस रिमांड अवधि आज समाप्त हो गयीं थी।

जिस पर पांचों को प्रथम श्रेणी न्यायिक दंडाधिकारी मनीष भट्ट की अदालत ने

आगामी 14 अक्टूबर तक न्यायिक अभिरक्षा में जेल भेजे जाने का आदेश दिया है।

श्री शेख ने बताया कि बीती 17 सितंबर को स्थानीय पलासिया पुलिस ने यहां

नगर निगम के अधीक्षण यंत्री (निलंबित) हरभजन सिंह की शिकायत पर एक प्रकरण दर्ज किया है।

आरोप है कि भोपाल निवासी आरती दयाल, श्वेता पति विजय जैन, श्वेता पति

स्वप्निल जैन, बरखा सोनी भटनागर और एक 18 वर्षीय छात्रा ने मिलकर हरभजन सिंह को हनीट्रैप किया।

आरोप है कि इन्होंने हरभजन के अंतरंग वीडियो बनाकर उससे तीन करोड़ रुपये वसूली का प्रयास किया।

पुलिस ने प्रकरण में ओमप्रकाश कोरी नामक एक पुरुष को भी गिरफ्तार किया है।

जो पहले से न्यायिक अभिरक्षा में इंदौर की एक जेल में बंद है।

श्री शेख के अनुसार पांचों आरोपियों पर प्रकरण में सामूहिक साजिश कर,

सभी की अलग अलग भूमिका पुलिस की प्राथमिक जांच में सामने आयी है।

मध्यप्रदेश की बहुचर्चित हनी ट्रैप के तार रायपुर से जुड़े हैं

इससे पहले पांचों महिलाओं में से आरती दयाल और एक छात्रा गिरफ्तार

किए जाने के पश्चात से 19 सितंबर से पुलिस रिमांड पर थी।

शेष दोनों श्वेता और बरखा के अधिवक्ताओं द्वारा विरोध दर्ज कराए जाने पर

बीती 27 सितम्बर को अदालत ने तीनों का पुलिस रिमांड स्वीकृत किया था।

प्रकरण की नियमित सुनवाई आगामी 14 अक्टूबर को संभावित है।

मध्यप्रदेश की बहुचर्चित हनी ट्रैप मामले के तार अब रायपुर से भी जुड़ चुके हैं।

वहां भी प्रीति तिवारी नामक एक लड़की को गिरफ्तार किया गया है।

जिसके खिलाफ एक व्यापारी ने आरोप लगाया था कि वह रिश्तों के भय दिखाकर

उन्हें पिछले चार वर्षों से ब्लैकमेल कर रही थी।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from मध्यप्रदेशMore posts in मध्यप्रदेश »
More from राजनीतिMore posts in राजनीति »

8 Comments

Leave a Reply

error: Content is protected !!