fbpx Press "Enter" to skip to content

लॉक डाउन में रसोई गैस की खपत में बढ़ोत्तरी,डीजल और पेट्रोल की खपत में गिरावट

मथुराः लॉक डाउन में डीजल और पेट्रोल की खपत में गिरावट आयी है वहीं रसोई गैस की

मांग अप्रत्याशित रूप से बढ़ी है। मथुरा रिफाइनरी के कार्यकारी निदेशक एवं रिफाइनरी

प्रमुख अरंिवद कुमार ने बताया कि पेट्रोलियम पदार्थों के उत्पादन में केवल इतना अंतर

आया है कि लॉक डाउन के दौरान एलपीजी की खपत बढ़ जाने के कारण उसका उत्पादन

बढ़ा दिया गया है जबकि अन्य पेट्रोलियम पदार्थों का उत्पादन मांग के अनुकूल अनवरत

जारी है। सभी इकाईयां सुचारू रूप से काम कर रही हैं। उन्होने कहा कि लॉकडाउन के

दौरान लोग घरों मे हैं जिससे पेट्रोल डीजल की खपत में कमी आई है। रिफाइनरी पूर्ण रूप

से बीएस छह ईंधन का उत्पादन करती है और रिफाइनरी के पास इसका पूर्ण भंडार है,

इसलिए ही रिफाइनरी ने अपना पूरा ध्यान घरेलू एलपीजी गैस सिलेंडर्स के लिए एलपीजी

के उत्पादन पर लगा दिया है। श्री कुमार ने बताया कि समाज के हर वर्ग के बेहतर

स्वास्थ्य के लिए कटिबद्ध मथुरा रिफाइनरी द्वारा लगभग एक हजार संविदा कर्मियों का

स्वास्थ्य परीक्षण कराया गया है। इसके साथ ही जिला प्रशासन, पुलिस प्रशासन एवं

स्थानीय जनप्रतिनिधियों को भी जरूरत के आधार पर लगातार रिफाइनरी में निर्मित

डब्ल्यूएचओ मानक सेनेटाइज़र उपलब्ध कराया जा रहा है। जरूरतमंदों और गरीब

परिवारों को जरूरत का राशन भी प्रदान किया जा रहा है।

रिफाइनरी प्रमुख ने बताया कि रिफाइनरी अपने सामाजिक दायित्वों का पूर्ण रूप से

निर्वहन कर रही है और अपने अधिकारी एवं कर्मचारियों के साथ ही संविदा श्रमिकों के

स्वास्थ्य को लेकर भी सजग है। इसी क्रम में रिफाइनरी के गेट नंबर नौ में पांच दिवसीय

स्वास्थ्य परीक्षण शिविर का आयोजन किया गया जिसमें संविदा श्रमिकों के स्वास्थ्य की

जांच की गई। मथुरा रिफाइनरी अस्पताल की टीम ने एक हजार से अधिक श्रमिकों का

परीक्षण किया। 


लॉक डाउन में रिफाइनरी के मजदूरों पर भी पूरा ध्यान

शिविर के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखते हुए श्रमिकों को कोरोना वायरस से

बचाव के लिए समय-समय पर साबुन और पानी से हाथ धोने, फेस मास्क का उपयोग

करने एवं शारीरिक स्वच्छता बनाए रखने के साथ ही जारी जरूरी दिशा-निर्देशों का पालन

करने के लिए भी प्रेरित किया गया। उन्होंने बताया कि वैश्विक महामारी कोरोना से बचाव

के लिए रिफाइनरी, टाउनशिप और आस-पास के गांवों में सेनेटाइजेशन और कई संबंधित

कार्य किए हैं। रिफाइनरी के फायर टेंडर द्वारा टाउनशिप क्षेत्र और बाद अगनपुरा,

छड़गांव, धानातेजा, धानाशमशाबाद जैसे कई गांवों में सेनेटाइज़र का छिड़काव किया

गया है। इन इलाकों में घरों, गलियों और सामाजिक भवनों को भी प्रमुखता से सेनेटाइज़

किया है। प्रबंधक, कारपोरेट कम्यूनिकेशन मथुरा रिफाइनरी रेनू पाठक के अनुसार

कोरोना से बचने के लिए रिफाइनरी ने आस-पास के कई गांवों में ट्रिपल लेयर कॉटन

मास्क वितरित किए हैं। इन मास्क को टाउनशिप की गृहणियों ने बनाया है। पूर्व में भी

रिफाइनरी द्वारा कई गांवों में मास्क एवं सेनेटाइज़र का वितरण किया जा चुका है।


 

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from उत्तरप्रदेशMore posts in उत्तरप्रदेश »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from देशMore posts in देश »
More from व्यापारMore posts in व्यापार »

Be First to Comment

Leave a Reply

error: Content is protected !!