fbpx

लगातार बारिश से सिद्धपीठ रजरप्पा में भैरवी और  दामोदर नदी उफान पर

लगातार बारिश से सिद्धपीठ रजरप्पा में भैरवी और  दामोदर नदी उफान पर

रजरप्पा : लगातार बारिश से शक्तिपीठ रजरप्पा का नीचे के इलाके में पानी भर गया है।

यह सिद्धपीठ दामोदर नदी एवं भैरवी नदी के संगम पर अवस्थित है । इधर चक्रवाती

तूफान यास के प्रभाव के कारण पिछले लगभग 48 घण्टे से लगातार बारिश होने के कारण

ताल तलैया एवं नदियों का जलस्तर बढ़ता जा रहा है। माँ छिन्नमस्ता मंदिर के अहाते

तक नदियों का जल पहुंच गया है। इससे वहाँ का जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया है। लोगों

को इसके चलते आम लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है । दामोदर

एवं भैरवी नदी भी पूरे उफान पर है। गोला के रास्ते मंदिर जाने वाली पुलिया जलमग्न हो

गई है। इनदिनों स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह के कारण लगी पाबंदियों के चलते श्रद्धालुओं का

आवागमन नहीं के समान है ।

लगातार बारिश से खेत मे लगी फसलें हो रही बर्बाद

राज्य में स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह लागू होने से जहां किसानों द्वारा मेहनत से उपजाई गई

सब्जियां नहीं बिक रही है। ऐसे में बेमौसम लगातार बारिश ने किसानों की मुश्किलें और

बढ़ा दी है। पिछले 3 दिनों से लगातार हो रहे लगातार बारिश के कारण चितरपुर प्रखंड के

विभिन्न क्षेत्रों में किसानों द्वारा लगाए गए मकई सहित अन्य फसलें प्रभावित हो रही है।

इस क्रम में गुरूवार को किसान नेता जगेश्वर महतो नागबंशी ने चितरपुर प्रखंड अंतर्गत

सांडी स्थित खेत में लगे मकई की फसलों का जायजा लिया। इस संबंध में उन्होंने कहा कि

लगातार बारिश के कारण खेत में पानी भर जाने से मकई की फसलों में पीलापन हो रहा

है। उन्होंने कहा कि एक ओर जहां कोरोना काल में किसानों के व्यापार का बुरा हाल हुआ

है। उसके बाद अब किसान प्रकृति की मार झेल रहे हैं। वर्तमान समय में अभी मकई का

खेती लगना था। लेकिन लगातार बारिश होने के कारण लोग मकई नहीं लगा पा रहे हैं और

जिनके खेतों में मकई की फसलें लगी है, अत्यधिक बारिश के कारण उसके पत्ते पीले पड़

जा रहे हैं। जिससे किसानों को लाखों का आर्थिक नुकसान हो रहा है। इसे लेकर जगेश्वर

महतो नागबंशी ने झारखंड सरकार और रामगढ़ जिला प्रशासन से गरीब किसानों को

मदद करने और फसलों की क्षतिपूर्ति हेतु मुआवजा देने की मांग की है।

तीन  दिनों से लगातार वर्षा से जनजीवन हुआ अस्त-व्यस्त

चितरपुर प्रखंड क्षेत्र में भी साइक्लोन यास का व्यापक असर दिख रहा है। इस दौरान

चितरपुर प्रखंड सहित आसपास क्षेत्रों में पिछले 3 दिनों से लगातार मूसलाधार बारिश हो

रही है। गुरूवार को भी लगातार बारिश होने से जहां एक ओर लोगों का जनजीवन अस्त-

व्यस्त हो गया है। वहीं दूसरी ओर अत्यधिक बारिश के कारण क्षेत्र के जवाहर रोड एवं

मायल बाजार चितरपुर सहित अन्य जगहों में कई लोगों के घरों में पानी घुस गया है।

जिसके कारण लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। खासकर गरीब तबके

के लोगों का खपरैलनुमा कच्चा मकान बारिश में पूरी तरह से जलमग्न होने के कारण

उन्हें भय सताने लगा है। लगातार बारिश होने के कारण चितरपुर के जवाहर रोड सहित

गली-मोहल्लों में पानी भर जाने के कारण सड़कों का पानी सीधे-सीधे लोगों के घरों में घुस

रहा है, जिससे लोगों को काफी परेशानी हो रही है।



Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
Rkhabar

Rkhabar

... ... ...
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: