चार दिनों से गायब प्रेमी युगल हाजिर

चार दिनों से गायब प्रेमी युगल हाजिर
Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

बेरमो /कथाराः चार दिनों से गायब प्रेमी युगल पुलिस के सामने उपस्थित हो गये।

इस दौरान गोमिया थाना क्षेत्र के कथारा ओपी परिसर सोमवार देर तक लोगों के हो हल्लो से गूंजता रहा।

थाने में पुलिस के अलावे कथारा पंचायत के लगभग प्रतिनिधियों के अलावे समाजसेवियों, बुद्धिजीवियों के अलावे क्षेत्र के दर्जनों पत्रकार भी उपस्थित थे।

तो सवाल उठता है कि आखिर ऐसा कौन मामला था जो ओपी परिसर में

इतने लोग उपस्थित थे। कथारा ओपी अंतर्गत कथारा चार नंबर कालोनी

निवासी स्व भरत राम के पुत्र हरिशंकर ने ओपी एक आवेदन

देते हुए सात मार्च से गायब होने की सनहा दर्ज करवाया।

मामला दर्ज होने के बाद पुलिस ने अनुसंधान शुरू तो जो राज

खुल कर सामने आया उसे सुन एक बार पुलिस भी सकते में पड़ गई।

दरअसल उपरोक्त आवेदनकर्ता भी 32वर्षीया बहन उषा बाई

सीसीएल कथारा क्षेत्रीय अस्पताल में कुक की कार्य

लगभग साढ़े तीन वर्षों से कर रही थी

यह नौकरी उसके पिता के देहांत के बाद उसे प्राप्त हुआ था

उनके पिता भी सीसीएल में कार्यरत थे।

इसी बीच उसी कालोनी सीता राम चौहान के लगभग 35 साल के पुत्र संजय चौहान को उससे प्रेम हो गया

दोनो ने लगभग डेढ़ वर्ष पुर्व पहले मंदिर में और लगभग एक वर्ष पुर्व तेनुघाट व्यवहार न्यायालय में विधिवत शादी कर ली

इस बात की जानकारी जैसे ही लड़की के परिजनों को लगी

वह इस शादी का विरोध यह कहते हुए करने लगा कि

उक्त लड़के ने उसकी लड़की से विवाह नौकरी के कारण किया है

ताकि उसके पैसे पर एश कर सके।

आरोप लगाया कि अगर उसकी बहन उस लड़के के साथ रहने लगेगा तो उसका घर कैसे चलेगा।

जिस कारण घर वालों ने लड़की पर पहरा बैठा दिया तथा कथित एक पत्रकार द्वारा दोनों मे शादी तोड़ने के नाम पर लड़की के परिजनों से लगभग साढ़े तीन लाख तक की ठगी तक करने की बातें सामने आई।

इधर कानुनी व धार्मिक शादी रचाने के बाद भी दोनों प्रेमी युगल अलग अलग रहने को मजबूर थे

इसी बीच दोनों ने इस पहरे को तोड़ने का निर्णय ले लिया और छह मार्च को ड्यूटी जाने के बहाने लड़की अपने प्रेमी के साथ भाग गया।

जिसके बाद ही लड़की के भाई ने थाने में उपरोक्त आवेदन दिया और पुलिस पर लगातार दबाव बनाया जाने लगा जिसमें स्थानीय पंचायत प्रतिनिधि अहम भूमिका निभा रहे थे।

पुलिस भी सख्ती दिखाते हुए दोनों को सोमवार को थाने में हाजिर होने पर मजबूर कर दिया।

दोनों के थाने में हाजिर होने की खबर फैलते ही वहां सभी तबके के लोगों की भीड़ जमा हो गई

लड़की के भाई और माँ भी थाने पहुची और अपनी बेटी को अपने साथ ले जाने का प्रयास किया मगर वह अपने प्रेमी के साथ ही जाने पर अड़ी रही।

एक बात यहा जो सराहनीय रही वह यह कि लड़की ने लिखित रूप से दिया कि

वह जीवन भर अपनी मां को खर्च देने के साथ साथ अपनी एक कुंवारी बहन की

शादी और भाई को रोजगार से जुड़ने तक हर संभव मदद करेगी पर रहेगी अपने पति के ही साथ।

इस बीच थाने परिसर में कई बार कुछ लोगों द्वारा महौल खराब करने का प्रयास किया गया

पर ओपी प्रभारी युधिष्ठिर महतो व पुलिस बल के सामने उसकी एक नहीं चली।

मिली जानकारी के अनुसार कथारा ओपी में हाजिर होने से पुर्व प्रेमी युगल

बेरमो एएसपी के समक्ष उपस्थित हो कर स्थानीय युवक लक्ष्मण लहरे व भानू नामक युवक

पर धमकाने व तंग करने के मामले को लेकर आवेदन दे चुका है

इस बात की पुष्टि कथारा ओपी प्रभारी श्री महतो ने स्वयं करते हुए कहा कि

दोनों को हर प्रकार से सुरक्षा प्रदान किया जायेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.