Press "Enter" to skip to content

लूटने और ठगने वाले सरकार बनी है झारखंड में : किसलय तिवारी

  • भाजपा युवा मोर्चा का आज संगठनात्मक बैठक आयोजित

  • बूथ मजबूत करने को लेकर कार्यकर्ताओं के साथ चर्चा 

जामताड़ा :  लूटने और ठगने वाली सरकार की कमियों और खामियों को जनता के बताना

होगा। जनता को यह पता चलना चाहिए कि वर्तमान राज्य सरकार लूटने और ठगने का

यह राजनीतिक खेल कैसे चला रही है। यह विचार भारतीय युवा मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष

किसलय तिवारी के हैं, जो यहां संगठनात्मक बैठक में बतौर मुख्य अतिथि उपस्थित हुए

थे। भाजपा युवा मोर्चा के आज संगठनात्मक बैठक मोर्चा के जिला अध्यक्ष अनूप पांडे के

नेतृत्व में आयोजित किया गया।

वीडियो में देखिये इस बैठक की कार्रवाई

इस बैठक में प्रदेश युवा मोर्चा के अध्यक्ष किसलय तिवारी मुख्य अतिथि के रूप में

उपस्थित हुए। कार्यकर्ताओं संग इस बैठक में ,प्रदेश कार्यसमिति बीरेंद्र मंडल, मोर्चा के

पद्रेश महा मंत्री मनीष दुबे, सोमनाथ सिंह और किशोर झा मौजूद थे। इस बैठक के दौरान

किसलय तिवारी ने कहा की जिले में आज युवा मोर्चा के कार्यकर्ताओं के साथ बैठक हो रही

है इस बैठक में यह निर्णय लिया जा रहा है की कैसे हमारा बूथ स्तर तक कैसे मजबूत हो

इस पर चर्चा होरही है। साथ ही उन्होनें इस बैठक के माध्यम से हेमंत सोरेन सरकार को

आड़े हाथों लिया उन्होंने कहा कि राज्य में लूटने वाले और ठगने वाले सरकार बनी है।

युवाओं को ठगकर सरकार बनाई है। चुनाव पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा था कि पांच

लाख बेरोजगारों को रोजगार देंगें या बेरोजगारी भत्ता देंगें पर अब इसका उलट काम कर

रही है। न रोज़गार मिला और न ही बेरोजगारी भत्ता सिर्फ प्रशिक्षित बेरोजगारों को भत्ता

दे रहे हैं।

लूटने और ठगने वाली सरकार का उल्लेख रांची की बैठक में भी

भाजपा युवा मोर्चा प्रदेश अध्यक्ष किसलय तिवारी ने रांची में प्रदेश कार्यालय में

आयोजित प्रेसवार्ता को संबोधित करते हुए भी कहा था कि राज्य गठन के बाद अगर

राज्य के युवाओं को कोई ठगने का काम किया तो वो है हेमंत सरकार के नेतृत्व में चल

रही यह ठगबंधन की सरकार। राज्य सरकार के विश्वासघात के कारण यहां का युवा

हताश,निराश और कुंठित हैं। उन्होंने कहा कि यह कोई राजनीतिक विरोध की भाषा नही

बल्कि इसके पीछे तथ्य हैं। कहा कि एक तरफ सत्ता में आते ही 5लाख लोगों को नौकरी

देने की बात करने वाली यह सरकार आज नौकरी छीनने वाली सरकार साबित हुई है। एक

तरफ संविदा कर्मियों की नौकरी चली गई या जाने वाली है। जिसके कारण

राज्य का युवा लगातार आंदोलन कर रहा। कहा कि यह सरकार आंदोलन को दबाने

केलिये पुलिस के डंडे बरसा रही। गर्भवती महिला आंदोलनकारी को भी पुरुष पुलिस के

द्वारा पिटवाया जा रहा। कहा कि कहां गया सरकार के सहयोगी दल कांग्रेस का प्रत्येक

घर से एक नौकरी देने का वादा और फिर बेरोजगारी भत्ता।

Spread the love
More from HomeMore posts in Home »
More from जामताड़ाMore posts in जामताड़ा »
More from झारखंडMore posts in झारखंड »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from राजनीतिMore posts in राजनीति »
More from वीडियोMore posts in वीडियो »

Be First to Comment

... ... ...
error: Content is protected !!
Exit mobile version