fbpx Press "Enter" to skip to content

पाकिस्तान से आने वाले टिड्डी दल पर भी हवाई हमला

जैसलमेरः पाकिस्तान से आने वाले टिड्डी दल पर नियंत्रण के लिए सारे उपाय किये जा

रहे हैं। पहली खेप में इस रास्ते से आये टिड्डियों ने देश के कई राज्यों में अब भी परेशानी

खड़ी कर रखी है। इस बार राजस्थान सहित कई राज्यों में फसलों को बर्बाद करने में लगे

पाकिस्तान से आये टिड्डियों के झुंडों पर नियंत्रण के लिये अब हेलिकॉप्टर के जरिए

कीटनाशक का छिड़काव शुरू किया गया है। टिड्डियों के खात्मे के लिए माउटेंड स्प्रेयर

ट्रैक्टर, ड्रोन के बाद अब हेलीकॉप्टर की मदद ली जा रही है। इसके तहत आज एक

हेलीकॉप्टर जैसलमेर पुलिस लाइन मैदान हेलीपेड पर उतरा। जैसलमेर के सीमावर्ती क्षेत्रों

में हेलीकाप्टर से छिड़काव शुरू किया। यह हेलिकॉप्टर एक बार में महज 250 लीटर

कीटनाशक का स्प्रे सिर्फ 50 हेक्टेयर क्षेत्र में ही कर सकता है। इसमें पायलट के नीचे दोनों

तरफ स्प्रे करने की सुविधा है। कंपनी से हुए करार के तहत 60 दिन में इसकी 100 घंटे की

उड़ान अनिवार्य है। यह हेलिकॉप्टर बाड़मेर के उत्तरलाई एयरबेस पर तैनात है, जो

जैसलमेर बाड़मेर के प्रभावित इलाकों में टिड्डियों पर छिड़काव करके उनका खात्मा

करेगा।

पाकिस्तान से आने वाले टिड्डियों को खत्म करेंगे

टिड्डी नियंत्रण अधिकारी डॉ राजेश कुमार ने बताया कि इसी कड़ी में जैसलमेर में

हेलीकाप्टर को तैनात किया गया है। जरूरत के आधार पर इसे बाड़मेर के साथ ही

जैसलमेर, जोधपुर, बीकानेर और नागौर जिलों में टिड्डी नियंत्रण के लिए काम में लिया

जाएगा। दूसरी तरफ टिड्डियों के सफाये के लिए वायुसेना मदद के लिए आगे आयी है।

वायुसेना ने अपने तीन एमआई-17 हेलिकॉप्टरों को टिड्डी पर स्प्रे करने के लिये तैयार

कर दिया है। ये हेलिकॉप्टार महज 40 मिनट में 750 हेक्टेयर क्षेत्र में 800 लीटर

कीटनाशक का छिड़काव कर देगा। इन तीन में से एक हेलिकॉप्टर को जोधपुर एयरबेस पर

तैनात किया जाएगा। यहां टिड्डी दलों के भारतीय सीमा में प्रवेश करते ही ये हेलिकॉप्टर

हमला करने को उड़ान भरेगा। ये शाम तक जैसलमेर पहुंच जायेंगे।


 

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from HomeMore posts in Home »
More from कृषिMore posts in कृषि »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from राज काजMore posts in राज काज »
More from राजस्थानMore posts in राजस्थान »

One Comment

Leave a Reply

... ... ...
%d bloggers like this: