fbpx Press "Enter" to skip to content

पुलिस की कमाई का नया जरिया बना है रांची में लॉकडाउन

  • टाईगर मोबाइल टाइम पर पैसा लेने रोज आती है

  • अपर बाजार में अधिकांश दुकानें पीछे से खुली

  • गश्ती दल को भी पता है दुकान कहां से खुली

  • बरतन और कपड़े की दुकानों में ग्राहक भी

राष्ट्रीय खबर

रांचीः पुलिस की कमाई का नया जरिया बन गया है कोरोना लॉकडाउन। अपर बाजार के

अनेक इलाकों में दुकानें खुल रही हैं। सिर्फ बड़े अफसरों की नजरों से बचे रहने के लिए

सामने का शटर बंद रहता है। इन दुकानों में से अनेक ने अपने पीछे के गेट और कुछ ने तो

नीचे के रास्ते से अपना कारोबार चालू कर रखा है। इन दुकानों में नियमित तौर पर टाईगर

मोबाइल और गश्ती दल को आते जाते देखा जा सकता है। वहां बैठकर दो दिनों तक यह

हाल देखने के बाद यह सूचना मिली कि लॉकडाउन के दौरान पुलिस की कमाई का यह

जरिया भर है। इन दुकानों को ऐसा करने की छूट देने के एवज में दो सौ रुपये हर टाईगर

मोबाइल वाले को मिलते हैं। दूसरी तरफ थाना का गश्ती वाहन भी लगातार इस बात की

जांच करता रहता है कि जिन लोगों ने नियमित तौर पर इस छूट के एवज में भुगतान

किया है, सिर्फ वे ही दुकान खोल रहे हैं अथवा इसका लाभ दूसरे भी उठा रहे हैं। खास तौर

पर बरतन और कपड़ों की दुकान में ग्राहकों के आने की कोई कमी नहीं हैं। शायद उनलोगों

को भी किस रास्ते से आना है, इसकी पूर्व सूचना होती है। हो सकता है कि मोबाइल पर

संपर्क की वजह से उन्हें पहले से ही पता होता है कि दुकान के सामने से नहीं बल्कि पिछले

गेट से अथवा नीचे बेसमेंट के रास्ते से उन्हें अंदर आना है।

पुलिस की कमाई के लिए दूसरे रास्तों का इस्तेमाल

वहां बाहर मौजद पुलिस वालों के सामने ही लोगों को आते जाते देखा जा सकता है।

कोरोना की दूसरी लहर को रोकने के लिए जहां प्रशासन और सरकार पूरी ताकत लगा रही

है, वहीं यह लॉकडाउन का नियम पुलिस वालों के लिए अतिरिक्त कमाई का जरिया बनता

दिख रहा है। लगातार दो दिनों से अपर बाजार के अलग अलग इलाकों में यही हाल देखने

को मिल रहा है। खासकर रंगरेज गली में इसे मामूली जांच से पकड़ा भी जा सकता है।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from HomeMore posts in Home »
More from एक्सक्लूसिवMore posts in एक्सक्लूसिव »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from रांचीMore posts in रांची »

Be First to Comment

... ... ...
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: