Press "Enter" to skip to content

पशुपति कुमार पारस व पांच सांसदों का पुतला दहन कर लोजपा कार्यकर्ताओं ने किया विरोध प्रदर्शन

राष्ट्रीय ख़बर

नरकटियागंज: पशुपति कुमार पारस व पांच सांसदों का पश्चिम चम्पारण लोक

जनशक्ति पार्टी ने विरोध किया है। बेतिया के कार्यकर्ताओं की बैठक नरकटियागंज में

सम्पन्न हुई। जिसमें लोक जनशक्ति पार्टी बेतिया के जिलाध्यक्ष दीपक कुमार मिश्र ने

लोक जनशक्ति पार्टी के बागी पांच सांसदों को स्वार्थवश लोजपा को तोड़ने और बदनाम

करने का आरोप लगाया है। उनके कार्य घोर निंदनीय व शर्मनाक है। पार्टी विरोधी

गतिविधियों का संचालन करने वाले पांच सांसदों को लोजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग

पासवान के निलंबित करने पर लोक जनशक्ति पार्टी बेतिया के कार्यकर्ताओं नेे चिराग

पासवान के फैसले का स्वागत किया। पार्टी विरोधी गतिविधियों का संचालन करने वाले

पशुपति कुमार पारस समेत पांच सांसदों का पुतला दहन कर विरोध जताया। सभी लोजपा

के कार्यकर्ताओं ने पशुपति कुमार पारस समेत पांचो सांसदों के मुर्दाबाद का नारा भी

लगाया। लोजपा सुप्रीमो रहे रामविलास पासवान ने जिस भाई पशुपति कुमार पारस को

राजनीति करना सिखाया। भतीजा प्रिंस राज को चलना सिखाया, उनके मरणोपरांत वही

भाई-भतीजा अपने सर्वार्थ सिद्धि के लिए उसी भाई पुत्र चिराग पासवान को धोखा देने का

और पार्टी को तोड़ने की कोशिश किया जाना काफी निंदनीय और शर्मनाक है। वर्तमान

समय में चिराग पासवान को देख राजनीति षड्यंत्र कर चिराग को बुझाने चले हैं, जिसने

सदियों से रोशनी सिर्फ रोशनी ही दिया, लेकिन उनको यह पता नहीं था कि चिराग

पासवान अकेला नहीं, उसके साथ बिहार की जनता है। जो इंसान राम जैसे भाई और उसके

परिवार का नहीं हुआ, वह देश की जनता का क्या होगा। पशुपति कुमार पारस ने जिस

तरह का काम किया हैं उससे यह प्रमाणित होता है कि राम जैसे भाई के घर में भी

विभिषण पैदा हो सकता है।

पशुपति कुमार पारस को विभीषण करार दिया कार्यकर्ताओं ने

रावण के घर में विभीषण का होना तो न्यायसंगत है, लेकिन राम के घर में विभीषण पैदा

हो यह काफी दुखद और निंदनीय है। लोक जनशक्ति पार्टी बेतिया के सभी कार्यकर्ता एक

साथ चिराग पासवान जिंदाबाद के नारे लगाते हुए, चिराग पासवान जी के निर्णय के साथ

मजबूती के साथ खड़े रहने का निर्णय लिया मौके पर अविनाश श्रीवास्तव, अनिल कुमार

चौबे, बब्लू यादव, योगेन्द्र सर्राफ, मनोज जायसवाल, कुमार सिद्धार्थ, नितेश कुमार,

अरशद वारसी, अनुराग मिश्र, लछनदेव दास, शेख मोनाफ, पीयुष तिवारी, रवि कुमार,

सुनील, राजकुमार महतो, नागेन्द्र कुमार, दानिश परवेज़, प्रतोष शुक्ल, राम विद्या प्रसाद,

अजय सोनी, उपेन्द्र बैठा, हिमाचल कुमार, शशी देवी, सरोजिनी देवी, पायल देवी, मनोरमा

देवी, मृत्युंजय सोनी, अभय मिश्रा, मनमोहन पाण्डेय, दीपक राम, भरत चौधरी, लालजी

पासवान उपस्थित रहे।

Spread the love
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from बिहारMore posts in बिहार »
More from राजनीतिMore posts in राजनीति »

Be First to Comment

... ... ...
error: Content is protected !!
Exit mobile version