fbpx Press "Enter" to skip to content

तेंदुआ का घर में सोती महिला पर हमला, अमरेली की घटना

अमरेलीः तेंदुआ में घर में सोती एक महिला पर हमला कर उसे घायल कर दिया। यह घटना गुजरात के अमरेली

जिले के बगसरा क्षेत्र में रविवार को घटी। पुलिस ने बताया कि लूंघिया गांव निवासी दयाबेन उ. माडवी (45) अपने

घर में सो रहीं थीं। इसी दौरान आज तड़के एक तेंदुआ ने उन पर हमला कर घायल कर दिया। महिला को अस्पताल

में भर्ती कराया गया है। वन विभाग की टीम उस तेंदुआ को पकडने के प्रयास कर रही है।

उल्लेखनीय है कि बगसरा से लगभग दो किमी दूर न्यू जांजरिया गांव में शनिवार देर रात एक खेत में सो रहे मूल

राजस्थान निवासी कृषि मजदूर छगनभाई (40) को मानवभक्षी तेंदुआ ने मार दिया था। इससे पहले गत पांच

दिसंबर को भी एक निकटवर्ती गांव में इसी तरह से खेत में सो रहे एक व्यक्ति को तेंदुए ने अपना शिकार बनाया

था और उससे पहले 25 अक्टूबर को भी ऐसा हुआ था।

स्थानीय मामलतदार आई एस तलोट ने बताया कि तीन मौतों से स्थानीय लोगों में डर का माहौल है।

वन विभाग और पुलिस ने उसे पकड़ने के लिए कल शाम से एक बड़ा अभियान शुरू किया है।

विसावदर के कांग्रेस विधायक तथा किसान नेता हर्षद रिबड़यिा ने इस मुद्दे पर कल अमरेली के जिलाधिकारी

से मुलाकात की थी।

मानवभक्षी तेंदुए को मारे जाने अथवा किसानों को सुरक्षा और हथियार मुहैया कराने की मांग करते हुए

उन्होंने कहा कि पिछले कुछ माह में अकेले अमरेली जिले में पांच से सात लोग तेंदुओं का शिकार बने हैं

जबकि एक साल में गिर वन के आसपास 17 लोगों की मौत हुई है और 66 लोग घायल हुए हैं।

उन्होंने ऐसी मौतों के लिए दिये जाने वाले मुआवजे की रकम को भी मौजूदा चार लाख से बढ़ा कर 25 लाख

करने की मांग की।

तेंदुआ के हमला में 17 लोग मारे गये और 66 घायल हुए हैं

वन विभाग ने संदिग्ध मानवभक्षी तेंदुए को पकड़ने के लिए एक व्यापक अभियान शुरू किया है।

अमरेली के प्रभारी अतिरिक्त जिलाधिकारी ए के जोशी ने बताया कि पुलिस और वन विभाग की 15 से 20 टीमें

बगसरा के आसपास के इलाके में कल शाम से सक्रिय की गयी हैं।

ये रात में देखने वाले नाइट विजन कैमरे, सीसीटीवी और ड्रोन में लगे कैमरों और पिंजरों आदि की सहायता से

अंधेरे में तेंदुए की तलाश कर पकड़ने का प्रयास करेंगी।

अगर आज इसे पकड़ा नहीं जा सका तो सूरज डूबने के बाद अभियान फिर से शुरू होगा।

राज्य सरकार की ओर से निर्देश मिलने पर यह अभियान चलाया जा रहा है। वरिष्ठ भाजपा नेता तथा

पूर्व मंत्री दिलीप संघाणी ने भी वन मंत्री को पत्र लिख कर गैर वन क्षेत्र में मानवों पर हमले करने वाले

जानवरों को मारने की मांग की है।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »

One Comment

Leave a Reply

Open chat
Powered by