Press "Enter" to skip to content

वामपंथी नेता डॉ खगेंद्र ठाकुर की पहली पुण्यतिथि मनायी गयी




रांचीः वामपंथी नेता व वाम आंदोलन के प्रमुख बौद्धिक नेता डॉ खगेन्द्र ठाकुर को उनकी




पहली पुण्यतिथि पर उन्हें पार्टी राज्य कार्यालय में उन्हें श्रद्धांजलि दी गयी। इस मौके पर

आयोजित कार्यक्रम की शुरुआत राज्य कार्यालय सचिव अजय कुमार सिंह ने पुष्पांजलि

देकर की। इस मौके पर राज्य परिषद सदस्य सह कार्यालय सचिव ने उनके बारे में विस्तृत

चर्चा की। उन्होंने कहा कि डॉ ठाकुर जनता के शब्दों में जनता के मुद्दे पर जनता के लिए

लिखते थे। यह विचारधारा उन्हें मार्क्सवाद से गहन अध्यन से विकसित हुआ तथा जुल्म

और मजदूर बर्ग के लिए लगातार लेख लिखते रहे और लोगो में बौद्धिक चेतना जागते रहे

उमेश नजीर ने अपने संस्मरण को बताया और कहा कि वे बहुत ही सजग और सहज




मार्क्सवादी विद्वान थे। इस मौके पर फरज़ाना फ़ारूक़ी, जयंत पांडेय, श्यामल चक्रवर्ती,

राहुल, राजेश, राजेश यादव व गिरधारी पाठक व देवाशीष घोष, अजहर मल्लिक, रवि

पीटर सहित कई लोगों ने विचार व्यक्त किये।

वामपंथी नेता ने झारखंड में अलग पहचान बनायी

वामपंथ के साथ जुड़े होने के साथ साथ बुद्धिजीवियों के बीच भी उनकी अलग पहचान थी।

इसी वजह से समझदार लोगों में उन्हें काफी सम्मान के साथ देखा जाता था। वामपंथी

आदोदन से लगातार जुड़े होने के साथ साथ वह खास तौर पर झारखंड के किसानों और

मजदूरों के हित में निरंतर संघर्ष करने वालों में से एक थे। 



More from इतिहासMore posts in इतिहास »
More from नेताMore posts in नेता »
More from रांचीMore posts in रांची »

Be First to Comment

Leave a Reply