fbpx Press "Enter" to skip to content

हिंदपीढ़ी छोड़कर बाकी रांची में दी गयी ढील

  • नियमों तोड़ने पर सीधे एफआईआर दर्ज होगी
  • सरकारी भवनों में शुरु हुआ काम काज दिखी रौनक
  • नारंगी और हरे जोन में चहल पहल नियंत्रित
  • नगर निकायों को निर्माण शुरू कराने का निर्देश

रांची:  हिंदपीढ़ी छोड़कर शेष रांची में आज छूट का तीसरा दिन थोड़ी रौनक लेकर लौटा।

सरकारी एलान के बाद भी पुलिस वाले पूरी तरह सतर्क थे। राज्य सरकार ने रेड जोन में

आने वाले रांची और बोकारो के कंटेनमेंट जोन को छोड़ बाकी जिले में छूट का फैसला

किया। रांची में हिंदपीढ़ी कन्टेनमेंट जोन है। हिंदपीढ़ी छोड़कर बाकी जिले में ढील दी गई है।

कन्टेनमेंट जोन के अलावा ऑरेन्ज और ग्रीन जोन वाले जिलों में आमदिनों की चहल-

पहल है। छूट के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग और बाकी ऐहतियात बरतने की सख्त हिदायत

है। लेकिन, इसका पालन होते नहीं दिखा। मुख्य सचिव सुखदेव सिंह ने कहा कि

लॉकडाउन की पाबंदियां रेड जोन में आने वाले जिलों में सिर्फ कन्टेनमेंट जोन में ही लागू

होंगी। बाकी जिले में केंद्र सरकार की गाइडलाइन के मुताबिक जो छूट दी जानी है, वह दी

जाएगी। रांची में हिंदपीढ़ी ही कंटेनमेंट जोन में हैं। इसलिए सिर्फ छोड़कर प्रतिबंध रहेगा।

बाकी जिले में छूट मिलेगी। उन्होंने कहा कि बेवजह सड़कों पर निकलने और लॉकडाउन

के नियमों का उल्लंघन करने वालों पर सख्ती कार्रवाई की जाएगी। इधर, सरकारी

कार्यालय खोलने से प्रोजेक्ट भवन स्थित सचिवालय, नेपाल हाउस सचिवालय, कलेक्ट्रेट

बिल्डिंग में भी रौनक दिखी है।

हिंदपीढ़ी छोड़कर कार्यालयों व फैक्ट्रियों में काम शुरू

केंद्र के आदेश के मुताबिक, राज्य सरकार ने 20 अप्रैल से शर्तों के साथ सरकारी दफ्तरों,

स्वायत संस्थाओं व बोर्ड-निगमों के कार्यालय खोलने का फैसला किया है। शर्तों के साथ

ग्रामीण क्षेत्रों के अलावा नगर निगम क्षेत्रों में भी औद्योगिक गतिविधियों को मंजूरी दी

गई है। राशन-दवा को छोड़कर अन्य कोई दुकान नहीं खुलेगी। ट्रांसपोर्ट सर्विस पहले की

तरह अब भी बंद ही रहेंगी। सामाजिक, राजनीतिक और खेल के आयोजन भी नहीं हो

सकेंगे। सभी कार्य स्थलों पर थर्मल स्कैनर और सैनिटाइजर होने चाहिए। ऑफिस, वर्क

प्लेस और फैक्ट्री, कैफेटेरिया, मीटिंग रूम, खुली जगह, लिफ्ट व टॉयलेट में पानी साफ

होना चाहिए। यहां सैनिटाइजेशन जरूरी होगा।

शहरी क्षेत्र में निर्माण कार्य शुरू करने का निर्देश

रांची नगर निगम क्षेत्र सहित राज्य के सभी नगर निकायों को निर्माण कार्य शुरू कराने का

निर्देश दिया गया है। शर्तों के साथ निर्माण कार्य शुरू कराने की अनुमति दी गई है। इसमें

पहली शर्त यह है कि सिर्फ वहीं निर्माण कार्य शुरू किया जाए जहां निर्माण स्थल पर

मजदूर मौजूद हैं। वहां काम शुरू नहीं हो सकेंगे जहां मजदूरों को बाहर से लाया जाना है।

भारत सरकार के निर्देश के बाद एनएचएआई ने 20 अप्रैल से रांची सहित राज्यभर के सभी

टोल प्लाजा पर टोल टैक्स की वसूली के निर्देश दिए हैं। हालांकि, सिर्फ माल वाहक वाहन

ही गुजर पाएंगे। निजी या सवारी वाहन नहीं निकल सकेंगे। वाहनों की जांच के लिए टोल

प्लाजा पर स्थानीय थाने की पुलिस के साथ टोल कांट्रेक्टर के सुरक्षा गार्ड को भी तैनात

किया गया । सभी वाहनों की जांच होगी। माल वाहक वाहनों में भी सिर्फ दो ड्राइवर और

एक क्लीनर रह सकेंगे। गृह मंत्रालय की गाइडलाइंस के मुताबिक, टू व्हीलर पर सिर्फ एक

शख्स रहेगा। यानी सिर्फ चलाने वाला। कार में दो लोगों से ज्यादा नहीं रहेंगे। लॉकडाउन

का उल्लंघन करने पर एफआईआर दर्ज होगी। इसके अलावा चार हजार रुपए का जुमार्ना

लगाया जा सकता है। टोला प्लाजा पर तैनात पुलिसकर्मियों को मुंबई, दिल्ली, कोलकाता

से आने वाले वाहनों पर विशेष नजर रखने को कहा गया है। क्योंकि इन क्षेत्र से आने वाले

वाहनों में अन्य लोगों के आने की संभावना से इंकार नहीं जा सकता। चार मोबाइल वैन

रांची के हिंदपीढ़ी, खेलगांव सहित अन्य संक्रमित जगहों पर पहुंच कर डोर टू डोर मरीजों

से सैंपल कलेक्शन कर रहे हैं। अब तक मोबाइल वैन से 400 से अधिक सैंपल कलेक्ट किए

गए हैं। वैन से रोजाना 50 से अधिक लोगों का सैंपल कलेक्ट हो रहे हैं।


 

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from कोरोनाMore posts in कोरोना »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from रांचीMore posts in रांची »
More from लाइफ स्टाइलMore posts in लाइफ स्टाइल »
More from व्यापारMore posts in व्यापार »

One Comment

Leave a Reply

error: Content is protected !!