Press "Enter" to skip to content

लक्ष्मीपुर गांव में दो जंगली हाथियों ने गेंहू की फसल को रौंदा

  • हाथी देखने के लिए उमड़ी भीड़ से परेशानी

  • पुलिस ने वहां पहुंचकर लोगों को दूर हटाया

  • खेतों में लगी तैयार फसल को नष्ट कर दिया

अमित नाग

जामताड़ाः लक्ष्मीपुर गांव नारायणपुर थाना इलाके में पड़ता है। इस गांव के खेतों पर दो

हाथियों के आतंक मचा दिया। दोनों हाथी वहां के खेतों में लगी गेंहू की फसल को रौंदते

चले गये। गांव में जंगली हाथी आने की सूचना जहां तक पहुंचे, वहां के लोग भागे भागे

हाथी देखने पहुंच गये।

वीडियो में देखिये इस पूरे घटनाक्रम को

इस भीड़ की वजह से दूसरी परेशानी खड़ी हो गयी थी। सूचना पाकर वहां पहुंची पुलिस

प्रशासन को इस भीड़ को दूर हटाने में काफी परिश्रम करना पड़ा। दरअसल हाथी के करीब

होने से इंसानों को जान का खतरा भी था। दूसरी तरफ लोगों की भीड़ को अपने करीब

देखकर हाथी भी उत्तेजित होने के बाद ज्यादा तबाही मचाने लगते हैं। लक्ष्मीपुर गांव के

निवासी कुड़ी सिंह एवं श्याम सिंह ने बताया क उनलोगों ने काफी मशक्कत करने के बाद

गेहूं के फसल को अपने खून पसीना लगाकर तैयार किया था। इसमें करीबन 50 हजार की

लागत लगी थी। परंतु जंगली हाथियों ने खेतों में लगे गेहूं के फसल को अपने पैरों तले रोंद

कर बर्बाद कर दिये। जिसे हम लोगों को काफी नुकसान पहुंचा है। उन्होंने वन विभाग एवं

सरकार से इस दिशा में पहल कर जांचों उपरांत उचित मुआवजा दिलाने की मांग की है।

लक्ष्मीपुर गांव पहुंचे सब इंस्पेक्टर समनोज कुमार सिंह

सूचना मिलने के बाद नारायणपुर थाने के सब इंस्पेक्टर समनोज कुमार सिंह पुलिस बल

के जवानों के साथ घटनास्थल पर पहुंचकर हाथी देखने के लिए उमड़ी लोगों की भीड़ को

हटाने का प्रयास करने में जुट गए हैं। इस दौरान लक्ष्मीपुर के खेतों की फसल रौंद डालने के

अलावा हाथियों ने अब तक कोई और बड़ा नुकसान नहीं पहुंचाया है। वैसे खतरा इस बात

का भी है कि रात के अंधेरे में धान की महक से हाथी अक्सर गांव के अंदर चले आते हैं।

मिट्टी की दीवारों से बने घरों को तोड़कर धान खाने के दौरान कई बार आम आदमी भी

उनकी चपेट में आ जाता है। जब बड़ा हादसा होने का खतरा मंडराने लगता है।

Spread the love
More from HomeMore posts in Home »
More from जामताड़ाMore posts in जामताड़ा »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from पर्यावरणMore posts in पर्यावरण »
More from वीडियोMore posts in वीडियो »

One Comment

... ... ...
error: Content is protected !!