fbpx Press "Enter" to skip to content

सलामी बल्लेबाजों के शतक और कुलदीप की हैट्रिक से भारत जीता

  • वेस्टइंडीज को हराकर सीरीज की बराबर

  • 107 रन से हराकर 1-1 की बराबरी की

विशाखापत्तनम: सलामी बल्लेबाजों रोहित शर्मा और लोकेश राहुल के

शतक के बाद कुलदीप यादव की हैट्रिक से भारत ने बुधवार को यहां

दूसरे एक दिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच में वेस्टइंडीज को 107 रन

से हराकर तीन मैचों की श्रृंखला 1-1 से बराबर कर दी। भारत के 388

रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए वेस्टइंडीज सलामी बल्लेबाज शाई होप

(78) और निकोलस पूरन (75) के बीच चौथे विकेट की 106 रन की

साझेदारी के बावजूद 43.3 ओवर में 280 रन ही बना सका। भारत की

ओर से कुलदीप (52 रन पर तीन विकेट) और मोहम्मद शमी (39 रन

पर तीन विकेट) ने तीन-तीन जबकि रविंद्र जडेजा (74 रन पर दो

विकेट) ने दो विकेट चटकाए। भारत ने सलामी बल्लेबाजों में रोहित

की 138 गेंद में 17 चौकों और पांच छक्कों से 159 रन की पारी और

राहुल (102) के साथ पहले विकेट की 227 रन की साझेदारी से पांच

विकेट पर 387 रन बनाए थे। श्रेयस अय्यर (32 गेंद में 53 रन, तीन

चौके, चार छक्के) और ऋषभ पंत (16 गेंद में 39 रन, तीन चौके,

चार छक्के) ने चौथे विकेट के लिए सिर्फ चार ओवर में 73 रन की

साझेदारी करके भारत का स्कोर 350 रन के पार पहुंचाने में अहम

भूमिका निभाई। सलामी बल्लेबाजों रोहित और राहुल की साझेदारी

वेस्टइंडीज के खिलाफ भारत की ओर से पहले विकेट की सर्वोच्च

साझेदारी है। इन दोनों ने सौरव गांगुली और वीरेंद्र सहवाग को पीछे

छोड़ा जिन्होंने नवंबर 2002 में राजकोट में 196 रन की साझेदारी की

थी। वेस्टइंडीज को होप और इविन लुईस (30) ने पहले विकेट के लिए

11 ओवर में 61 रन जोड़कर सतर्क शुरूआत दिलाई। शारदुल ठाकुर ने

लुईस को डीप स्क्वायर लेग पर अय्यर के हाथों कैच कराके इस

साझेदारी को तोड़ा।

सलामी बल्लेबाजों की जोड़ी को ठाकुर ने तोड़ा

पहले वनडे में शतक जड़ने वाले शिमरोन हेटमायर (04) इसके बाद

अय्यर के शानदार क्षेत्ररक्षण का शिकार बनकर रन आउट हुए जबकि

रविंद्र जडेजा ने रोस्टन चेज (04) को बोल्ड करके वेस्टइंडीज का स्कोर

तीन विकेट पर 86 रन किया। होप और पूरन ने इसके बाद जिम्मेदारी

संभाली।पूरन 22 रन के स्कोर पर भाग्यशाली रहे जब जडेजा की गेंद

पर दीपक चाहर ने लांग आन पर उनका कैच टपका दिया। पूरन ने

ओवर में दो छक्के मारने के बाद बायें हाथ के इस स्पिनर के अगले

ओवर में भी दो छक्के और एक चौका मारा। पूरन ने चाहर पर चौके के

साथ 34 गेंद में अर्धशतक पूरा किया। उन्होंने शमी की लगातार गेंदों

पर छक्का और चौका मारा लेकिन इस तेज गेंदबाज के अगले ओवर में

कुलदीप को कैच दे बैठे। शमी ने अगली गेंद पर वेस्टइंडीज के कप्तान

कीरोन पोलार्ड को विकेटकीपर पंत के हाथों कैच कराया। पंत ने

हालांकि कुलदीप की गेंद पर होप को स्टंप करने का मौका गंवा दिया।

वह इस समय 73 रन बनाकर खेल रहे थे। शमी के अगले ओवर में

कोहली ने भी होप का कैच टपकाया। होप इन जीवनदान का फायदा

नहीं उठा पाए और कुलदीप की गेंद पर डीप मिडविकेट पर कोहली को

कैच दे बैठे। कुलदीप अगली दो गेंद पर जेसन होल्डर (11) और

अल्जारी जोसेफ (00) को पवेलियन भेजकर दो अंतरराष्ट्रीय हैट्रिक

बनाने वाले पहले भारतीय गेंदबाज बने। जडेजा ने इसके बाद खैरी

पियरे (21) को कोहली के हाथों कैच कराया जबकि शमी ने कीमो पाल

(46) को बोल्ड करके वेस्टइंडीज की पारी का अंत किया। इससे पहले

पोलार्ड ने पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया जिसे राहुल और

रोहित ने गलत साबित करने में कोई कसर नहीं छोड़ी।

कुलदीप की गेंद पर पंत ने एक मौका गंवाया था

तेज गेंदबाज शेल्डन कोटरेल (83 रन पर दो विकेट) ने पहले ओवर में

रोहित को परेशान किया लेकिन इस सलामी बल्लेबाज ने उनके अगले

ओवर में चौका जड़ा। राहुल ने भी इस ओवर में चौका मारा और फिर

होल्डर पर पारी का पहला छक्का जड़ा। राहुल पर पियरे पर छक्के और

फिर एक रन के साथ सिर्फ 46 गेंद में अर्धशतक पूरा किया। रोहित ने

जोसेफ पर चौके के साथ 21वें ओवर में टीम का स्कोर 100 रन के पार

पहुंचाया जबकि कीमो पाल (57 रन पर एक विकेट) की गेंद को डीप

स्क्वायर लेग पर चार रन के लिए भेजकर 67 गेंद में 50 रन पूरे किए।

रोहित और राहुल ने बीच के ओवरों में अधिक जोखिम नहीं उठाते हुए

स्ट्राइक रोटेट करने को तरजीह दी लेकिन खराब गेंदों को बाउंड्री के

दर्शन भी कराए। रोहित ने पियरे की गेंद पर चौका और छक्का जड़ने

के बाद 34वें ओवर में होल्डर की गेंद पर एक रन के साथ 28वां शतक

पूरा किया। इसी ओवर में भारत के 200 रन भी पूरे किए। राहुल ने भी

जोसेफ पर चौके के साथ 102 गेंद में करियर का तीसरा शतक पूरा

किया। दायें हाथ का यह बल्लेबाज हालांकि इसी ओवर में थर्डमैन पर

कैच देकर पवेलियन लौट गया। उन्होंने 104 गेंद का सामना करते हुए

आठ चौके और तीन छक्के मारे। कोहली एक बार फिर नाकाम रहे और

पोलार्ड (20 रन पर एक विकेट) की पारी की तीसरी और अपनी पहली

ही गेंद पर शार्ट मिडविकेट पर चेज को कैच दे बैठे।

रोहित ने छक्का लगाकर 150 का आंकड़ा पार किया

रोहित ने होल्डर पर छक्के के साथ 150 रन के स्कोर को पार किया

लेकिन कोटरेल की गेंद पर विकेटकीपर होप को कैच दे बैठे। पंत ने

जोसेफ पर दो छक्कों के साथ 45वें ओवर में टीम का स्कोर 300 रन के

पार पहुंचाया। बायें हाथ के इस बल्लेबाज ने 46वें ओवर में कोटरेल पर

दो छक्कों और तीन चौकों से 24 रन जोड़े। अय्यर ने भी अगले ओवर

में चेज की लगातार गेंदों पर तीन छक्के और दो चौकों से 31 रन बटोरे

जो एकदिवसीय इतिहास में भारत की ओर से एक ओवर में सर्वाधिक

रन का नया रिकार्ड है। पंत हालांकि कीमो पाल के अगले ओवर में

निकोलस पूरण को कैच दे बैठे। अय्यर ने इसी ओवर में एक रन के

साथ 28 गेंद में लगातार चौथा अर्धशतक पूरा किया। वह हालांकि

कोटरेल के अगले ओवर में होप को कैच दे बैठे।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

One Comment

Leave a Reply