fbpx Press "Enter" to skip to content

खेतको में पति द्वारा पत्नी को डूबाकर मारने की कोशिश

  • तीन लड़कों ने देखा तो जान बचायी

  • शादी के बाद से ही प्रताड़ित किया गया

  • कोनार डैम में भीड़ थी तो जान बची थी

मिथिलेश कुमार

पेटरवारः खेतको निवासी मोहम्मद मासूम रजा के द्वारा अपनी पत्नी को तेनुघाट

दामोदर नदी के किनारे ले जाकर नदी में डूबकर जान से मारने की कोशिश की गई। मगर

नदी के किनारे घूमने आए तीन लड़कों के द्वारा उसे बचाया गया

वीडियो में जानिये पूरा माजरा

 

इस बारे में पूछने पर लड़की रुबिया रुही ने बताया उसकी शादी आज से लगभग 7 वर्ष पूर्व

खेतको निवासी फरजान अंसारी के पुत्र मो मासूम रजा के साथ हुई थी। जिससे एक पुत्र

एवं एक पुत्री भी है, जिनकी उम्र लगभग 5 वर्ष एवं 3 वर्ष है। शादी के बाद उसे पति के

द्वारा हमेशा प्रताड़ित किया जाता था, मारपीट की जाती थी और जान मारने की भी

कोशिश की गई। रुबिया जब इसकी शिकायत अपने सास-ससुर से करती थी वे लोग इसे

ही डाटा करते थे और कहते थे ऐसा नहीं होता है वह कभी तुम्हारे साथ मारपीट नहीं करता

है। इसकी खबर मायके वालों को भी की। जिसके बाद कई बार पंचायत भी हुई मगर उसके

बाद भी हमेशा रुबिया को अपने पति के द्वारा प्रताड़ित किया जाता था। पिछले 10 दिन

पूर्व अपने ससुराल वालों और पति को बोली कि वह अपने मायके जाना चाहती है। उसे

जाने की इजाजत मिली। फोन से पति ने बोला कि मैं तुम्हें लेने आ रहा हूं और वह आने को

तैयार हो गई। मोटरसाइकिल से विष्णुगढ़ नवादा से लेकर खेतको के लिए चल दिया। बीच

में उसे कोनार डैम घूमाने ले गया। लड़की ने बताया कि वहां बहुत ज्यादा भीड़ था इसलिए

उसे मार नहीं पाया। फिर बोला चलो मैं तेनुघाट डैम लेकर चलता हूं। वहां भी कई पार्क बने

हैं उसे ही मैं तुम्हें दिखा दूंगा। डैम में घूमाने के बाद वह उसे पिकनिक स्थल की ओर ले

गया। दूर किनारे एकांत की ओर ले गया।

खेतको से ले जाकर तेनुघाट डैम में पानी में धक्का दिया था

जहां पर वह अपने दोनों बच्चों को मोबाइल देकर अपनी पत्नी को नदी के किनारे ले गया

और वहां ले जाकर उसे पानी में धक्का दे दिया। मगर लड़की को तैरना आता था और वह

तैर कर बाहर निकल आई। मगर उसके बाद फिर वह नदी में ले जाकर पानी के अंदर बाल

पकड़ कर दबाने लगा। बच्चों ने देखकर चिल्लाने लगे। बच्चो की चिलाहट सुनकर नदी के

किनारे घूम रहे तीन लड़के आए। जिसे देखकर वह लड़की को छोड़कर भाग गया। इसके

बाद उसकी जान बचाया गया। उसके बाद उसने अपने मोबाइल से मायके वालों को खबर

की और तेनुघाट थाना पहुंची या उसने अपनी शिकायत दर्ज कराई। वहीं लड़की की माँ ने

बताया कि इसके पहले भी मेरी बेटी के साथ मार-पीट किया करता था वह शादी के बाद

किसी लड़की से बात करता है जिसके चलते कई बार सामाजिक पंचायत भी की गई है

लेकिन आज वह मेरी बेटी को जान से ही मारने का प्रयास किया है उसे सजा होनी चाहिए।


 

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from HomeMore posts in Home »
More from अपराधMore posts in अपराध »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from बोकारोMore posts in बोकारो »
More from महिलाMore posts in महिला »
More from वीडियोMore posts in वीडियो »

One Comment

Leave a Reply

error: Content is protected !!