fbpx Press "Enter" to skip to content

करतारपुर साहिब कोरिडोर की जांच चौकी का उदघाटन किया नरेंद्र मोदी ने







  • कहा कार सेवा जैसी अनुभूति हो रही है इस काम को करने में

डेरा बाबा नानकः करतारपुर साहिब कोरीडोर की एकीकृत जांच चौकी का उदघाटन करने से पहले शिरोमणि

गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी की समागम समारोह में पहुंचे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि उन्हें आज करतारपुर

कोरीडोर को समर्पित करने पर वैसी अनुभूति महसूस हो रही है जैसी आप लोगों को कार सेवा के समय होती है ।

करतारपुर कोरीडोर आज से श्रद्धालुओं के लिये खुल जायेगा ।

इस मौके पर मंच पर उपस्थित पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ,राज्यपाल वीपी बदनोर ,

पंजाब के मंत्री ,विधायक ,सांसद ,केन्द्रीय मंत्रिपरिषद के सदस्य ,एसजीपीसी के प्रधान गोबिंद सिंह लोंगोवाल

और पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल तथा अन्य उमंग उत्साह से लबरेज महानुभावों को

संबोधित करते हुये श्री मोदी ने कहा कि गुरु नानक देव के 550वें प्रकाश पर्व पर उनकी इस

पावन धरती पर वह अपने को धन्य महसूस कर रहे हैं ।

करतारपुर के लिए आये देश विदेश के श्रद्धालुओं को इस मौके पर दी बधाई

उन्होंने इस मौके पर देश -विदेश और पंजाब के सिख भाइयों को बधाई देते हुये कहा कि

इस पावन धरा पर सेवाभाव बढ़ता है और मैं प्रार्थना करता हूं कि गुरु नानक देव जी का

आर्शीवाद उन पर बना रहे ताकि वो लोगों की बढ़ चढ़कर सेवा कर सकें ।

आज का पावन तथा ऐतिहासिक दिन दोहरी खुशी लेकर आया है ।

इस कोरीडोर के खुलने से गुरुद्वारा साहिब के दर्शन आसान हो जायेंगे ।

उन्होंने कोरीडोर बनाने में जिनका भी योगदान रहा चाहे वो श्रमिक

हों या अन्य सभी का आभार जताया और पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान नियाजी का इस बात के

लिये धन्यवाद किया कि उन्होंने भारत की भावना को समझकर उसके अनुरूप कार्य किया ।

उन्होंने पाकिस्तान के उन साथियों का धन्यवाद किया जिन्होंने सीमा पार के कोरीडोर बनाने में योगदान दिया ।

करतारपुर साहिब कोरिडोर के मंच से गुरु नानक का नाम लिया

उन्होंने कहा कि गुरु नानक देव पूरी मानवता के लिये प्रेरणा पुंज हैं । नानक एक विचार है ,जीवन का आधार है ।

हमारी संस्कृति ,सोच ,विचार ,कथनी सभी कुछ गुरु नानक देव जैसी पुण्य आत्माओं द्वारा गढ़ी गई ।

किसे मालूम था कि वो युग बदलने वाला है । वह सामाजिक परिवर्तन की मिसाल थे । उन्होंने समाज में एकता

,भाईचारा ,समानता और प्रेम शांति का रास्ता दिखाया । जो व्यवस्था सच्चाई ,आत्म सम्मान पर टिकी हो

उसके लिये तरक्की के रास्ते खुल जाते । श्री मोदी ने कट्टरपंथियों पर निशाना साधते हुये कहा कि धर्म तो आता

जाता रहता है लेकिन सच्चे मूल्यों का कभी नाश नहीं होता । मूल्यों पर अडिग रहकर काम करने से खुशहाली

तथा समृद्धि आती है ।

करतारपुर के कण कण में गुरुजी मौजूद हैं

करतारपुर के कण कण में गुरु जी के पसीने की महक समायी हुई है । वायु में उनकी वाणी

घुली हुई है । इसी धरती पर हल चलाकर उन्होंने कीरत करो ,नाम जपो और मिल बांटकर खाओ का उदाहरण

पेश किया । एकता और भाईचारे की मिसाल तथा संदेश कहीं नहीं मिलता। प्रधानमंत्री ने कहा कि 550 पहले

गुरु नानक देव ने समानता पर बल दिया और उन्होंने जो कहा उसे पहले अपने जीवन में धारण किया ।

उन्होंने प्रकृति के गुणों का गायन किया लेकिन हम अपनी जड़ों से दूर हुये वैसे ही दुखों ने घेर लिया ।

हम प्रकृति का दोहन , प्रदूषित करना ,जल की बर्बादी कर रहे हैं । उनके समय में पंजाब में पांचों नदियां पानी

से भरपूर थीं । उन्होंने कहा था कि जल संरक्षण को प्राथमिकता देनी चाहिये क्योंकि पानी से ही सृष्टि को जीवन

मिलता है लेकिन आज हम ये सब भूल गये । गुरुवाणी कह रही है कि वापस लौटो और संस्कारों को याद करो ।

हमारे समृद्ध अतीत ने सब कुछ दिया था । अब जागने का समय है ।

सामाजिक कुरीतियों के खिलाफ उठे तो थे साधु संत भी

उन्होंने कहा कि जात पात, अंध विश्वास तथा कुरीतियों के खिलाफ साधु संतों ,पीर फकीरों ने आवाज बुलंद की ।

अब हमें भी भारत का अहित सोचने वाली ताकतों से सजग रहने की जरूरत है तथा ऐसी ताकतों से आने वाली

पीढ़ियों को दूर रखना होगा तथा पर्यावरण संरक्षण पर ध्यान देना होगा । इससे पहले मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर

सिंह ने करतापुर कोरीडोर बनाने तथा खोलने के लिये श्री मोदी का धन्यवाद करते हुये कहा कि 72 वर्ष के बाद

सिख संगत की चिरलंबित मांग पूरी हो रही है ।

उन्होंने उम्मीद जताई कि पाकिस्तान बनने के बाद जो गुरु घर

पाक में रह गये उनके दर्शनों का रास्ता भी साफ होगा । कैप्टन सिंह ने पाकिस्तान की ओर निशाना साधते हुये

कहा कि पड़ोसी देश को समझ लेना चाहिये कि अब समय बदल रहा है और शांति और प्यार की आवाज उठ

रही है । पाक को अब हमारे खिलाफ इस्तेमाल किये जाने वाले पैसे को अपनी जनता की खुशहाली के लिये

सड़कें ,बिजली पानी और शिक्षा पर खर्च करना चाहिये ।

पंजाब की देखभाल करना हमारी जिम्मेवारी है ।

पंजाब में पानी की कमी अब बहुत बड़ी समस्या है

उन्होंने कहा कि आज पंजाब के पास पानी की कमी है

और यदि ध्यान न दिया तो पंजाब एक दिन रेगिस्तान बन जायेगा ।

जब पानी नहीं तो फसलें कहां से होंगी ।

यह बात तो गुरु नानक देव बहुत पहले कह गये थे कि पानी धरती और वायु की संभाल करो ।

पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल ने करतारपुर कोरीडोर खोले जाने की मांग पूरी करने के लिये प्रधानमंत्री का आभार जताया ।

उन्होंने कहा कि यह स्थल धार्मिक पर्यटन बनने जा रहा है क्योंकि नानक नामलेवा इसके दर्शनों के लिये आयेंगे ।

उन्होंने कैप्टन सरकार से आग्रह किया कि करतारपुर की ओर आने वाली सभी सड़कें पक्की की जायें ।

भारत और पाकिस्तान के बीच 4.2 किलोमीटर का यह गलियारा

भारत और पाकिस्तान ने पाकिस्तान स्थित गुरुद्वारा करतारपुर साहिब जाने के लिए एक समझौते के तहत

4.2 किलोमीटर लंबे इस गलियारे का निर्माण किया है। श्री मोदी वहां जाने वाले पहले श्रद्धालुओं के पहले जत्थे को

रवाना करेंगे। इस जत्थे में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह और कई

अन्य गणमान्य हस्तियां शामिल हैं। भारत और पाकिस्तान ने इस गलियारे के संबंध में गत 24 अक्टूबर को

हस्ताक्षर किये थे। केन्द्रीय मंत्रिमंडल ने 22 नवम्बर 2018 को गुरु नानक देव की 550 वीं जयंती को धूमधाम से

मनाने के संबंध में एक प्रस्ताव पारित किया था।

दोनों देशों ने जो समझौता किया है उसके तहत सभी धर्मों को

मानने वाले भारतीय श्रद्धालु गलियारे का उपयोग कर सकते हैं। यात्रा के लिए वीजा की आवश्यकता नहीं है।

श्रद्धालुओं के पास केवल वैधानिक पासपोर्ट होना चाहिए।

पाकिस्तान ने प्रतियात्री 20 डॉलर यानी करीब 1500 रुपए का शुल्क लगाया है।



Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

4 Comments

Leave a Reply