fbpx Press "Enter" to skip to content

झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने दिल्ली में प्रधानमंत्री से भेंट की




  • झारखंड में ट्राइबल यूनिवर्सिटी शुरू करने की मांग

  • हेमंत सोरेन ने कहा कि यह शिष्टाचार भेंट थी

  • पीएम मोदी ने हरसंभव सहयोग की बात कही है

रांची: झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने शनिवार को सुबह ग्यारह बजे प्रधानमंत्री नरेंद्र

मोदी से नई दिल्ली स्थित उनके आवास पर मुलाकात की। मुख्यमंत्री बनने के बाद

प्रधानमंत्री के साथ यह उनकी पहली मुलाकात थी। इस क्रम में उन्होंने राज्य के प्रमुख

विषयों पर प्रधानमंत्री के साथ विस्तृत चर्चा की। इससे पहले प्रधानमंत्री ने उन्हें मुख्यमंत्री

बनने की शुभकामनाएं दी। प्रधानमंत्री से मिलने के बाद हेमंत ने मीडिया से रूबरू होते हुए

कहा कि उन्होंने प्रधानमंत्री से राज्य के विकास में केंद्र से सहयोग की अपेक्षा जताई है।

उन्होंने भी समन्वय पर जोर देते हुए इसके लिए राज्य को केंद्र से भरपूर सहयोग का

आश्वासन दिया है। उन्होंने बजट की तैयारियों को देखते हुए झारखंड में ट्राइबल

यूनिवर्सिटी की स्थापना का भी अनुरोध करते हुए इसके लिए केंद्रीय बजट में प्रस्ताव

करने का अनुरोध किया। प्रधानमंत्री ने इसपर भी सकारात्मक रूप से विचार करने का

आश्वासन दिया है। हेमंत ने कहा कि वे शीघ्र ही राज्य की आर्थिक स्थिति की समीक्षा

करेंगे। इसके बाद राज्य को केंद्र से मिलनेवाले अनुदान को लेकर वे अपनी टीम के साथ

एक बार फिर प्रधानमंत्री से मिलेंगे। इसमें राज्य को मिलनेवाले वास्तविक अनुदान पर

विस्तृत चर्चा होगी।

झारखंड के बहरागोड़ा और गुमला में खोलने पर है विवाद

पिछली सरकार ही राज्य में ट्राइबल यूनिवर्सिटी खोलने पर विचार कर रही थी। राज्यपाल

द्रौपदी मुर्मू ने बहरागोड़ा में इसके खोलने की स्वीकृति दी थी। इसके लिए कोल्हान

विश्वविद्यालय को जमीन चिह्नित करने का भी निर्देश दिया था। बाद में राज्य सरकार

ने गुमला में जमीन खोजनी शुरू कर दी। इसके बाद इसपर कोई खास प्रगति नहीं हो पाई।

केंद्र से ट्राइबल यूनिवर्सिटी की स्वीकृति मिलने पर राष्ट्रीय उच्चतर शिक्षा अभियान के

तहत इसके लिए अनुदान भी मिल सकता है। शनिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से

मुलाकात करने के लिए हेमंत शुक्रवार को दिल्ली के लिए रवाना हुए।

झारखंड में हेमंत के दोबारा सीएम बनने के बाद दोनों नेताओं के बीच यह पहली मुलाकात

है। दिल्ली रवाना होने से पूर्व एयरपोर्ट पर मीडिया से बातचीत में हेमंत ने कहा कि राज्य

में नई सरकार बनी है, ऐसे में प्रधानमंत्री से उनका मिलना शिष्टाचार का हिस्सा है।

सोनिया गांधी से मुलाकात पर मुख्यमंत्री ने कहा कि अगले कुछ दिनों में यूपीए गठबंधन

की एक बैठक होनी है, जिसमें वे भाग लेंगे। माना जा रहा है कि सोनिया से हेमंत की

मुलाकात के बाद ही मंत्रिमंडल के सदस्यों के नाम पर अंतिम मुहर लगेगी। प्रदेश कांग्रेस

के एक वरीय नेता के मुताबिक मकर संक्रांति के आसपास कांग्रेस आलाकमान से

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की मुलाकात होगी।



Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from झारखंडMore posts in झारखंड »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from दिल्लीMore posts in दिल्ली »
More from राज काजMore posts in राज काज »
More from राजनीतिMore posts in राजनीति »

Be First to Comment

Leave a Reply

... ... ...
%d bloggers like this: