fbpx

मयखाना बना झंझारपुर भाजपा कार्यालय जिलाध्यक्ष का शराब पीते वोडियो वायरल

मयखाना बना झंझारपुर भाजपा कार्यालय जिलाध्यक्ष का शराब पीते वोडियो वायरल
  • सूरज अस्त जिलाध्यक्ष मस्त की बात कहते हैं लोग

  • शाम ढलते ही सज जाती है शराब और कबाब की मेज

आशीष कुमार

पटना : मयखाना अगर सत्तारुढ़ सरकार के सहयोगी दल का कार्यालय हो तो पुलिस या

प्रशासन क्या बिगाड़ लेगी। बिहार में शराबबंदी अपने 5 साल पूरा करने के बाद 6ठे वर्ष में

पहुंच अपनी सफलता का परचम लहरा रही है। पीने-पिलाने से लेकर तस्करी तक में भी

शराबबंदी के अगुवा नीतीश कुमार को ही मुंह चिढा रहा है। सरकार अपनी शान में कसीदे

गढते हुए कहती है कि बिहार में शराबबंदी पूर्णतः सफल है। लेकिन हकीकत क्या है यह बिहार

का हर जिम्मेदार नागरिक बता देगा। इधर नीतीश कुमार के सबसे करीबी पूर्व उपमुख्यमंत्री

और भाजपा के राज्यसभा सदस्य सुशील कुमार मोदी ने भी पिछले दिनों बयान देकर कहा था

कि बिहार में पूर्ण शराबबंदी नीतीश कुमार का साहसिक कदम है। लेकिन भाजपा के ही एक

जिलाध्यक्ष का शराब पीने का वायरल वीडियो सब गुड़-गोबर कर दिया। वीडियो में भाजपा के

झंझारपुर जिलाध्यक्ष सीयाराम साह पार्टी कार्यालय में ही बैठकर शराब का मजा ले रहे हैं।

हालांकि राष्ट्रीय खबर वायरल हो रहे वीडियो की पुष्टि नहीं करता है। लोगों ने बताया कि

शराबबंदी में शराब पीने और पिलाने का तरीका आसान हो गया है। पहले अधिकृत दुकानों पर

जाकर शराब लेना पड़ता था।

मयखाना के साथ साथ अब तो घर पहुंच सेवा भी

शराबबंदी के बाद होम डिलीवरी शुरु हुई, उसके बाद कहा जा रहा है कि बेड डिलीवरी हो रही है।

बिहार सरकार में ऊंचे पदों पर आसीन नेता एवं पुलिस अधिकारियों की मिलीभगत से बिहार

में धड़ल्ले से शराब बिक रहा है। फर्क बस इतना है कि जो सामान कल 500 में मिलता था

आज वहीं 1500 का हो गया है। दरअसल जहरीली शराब से 16 या उससे अधिक लोगों की

मौत के बाद यह मामला फिर से चर्चा में है। वरना यह सभी जानते हैं कि पड़ोसी इलाकों के

अलावा हरियाणा से भी लगातार बिहार में शराब की आपूर्ति हो रही है। इसकी वजह से अनेक

प्रमुख इलाकों में भी बड़े लोग अपनी मयखाना सजा लेते हैं।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
Rkhabar

Rkhabar

... ... ...
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: