fbpx Press "Enter" to skip to content

जापान में भीषण तूफान हेगीबिस में मृतकों की संख्या 74 हुई

टोक्योः जापान में भीषण तूफान हेगीबिस से मरने वालों की संख्या बुधवार को बढ़कर

74 हो गयी तथा 212 अन्य घायल हैं जबकि 15 लोग अभी भी लापता हैं।

स्थानीय मीडिया रिपोर्टों में बुधवार को यह जानकारी दी गयी।

हेगीबिस को जापान के इतिहास में सबसे भयंकर तूफानों में से एक बताया जा रहा है।

इसमें मरने वालों की संख्या और अधिक होने की आशंका व्यक्त की जा रही है।

जापान के एनएचके प्रसारक ने बुधवार तड़के तूफान के कारण 74 लोगों के मारे जाने की

पुष्टि की है। हेगीबिस के कारण जापान में मूसलाधार बारिश के साथ तेज हवाएं चल रही हैं

जिसके कारण देश में भूस्खलन की 100 से अधिक घटनाएं सामने आईं हैं।

हजारों की संख्या में घर पानी में डूब गए हैं और अधिकतर इलाकों में बिजली आपूर्ति

ठप्प हो गई है। हेगीबिस ने शनिवार को जापान में दस्तक दी थी।

भयंकर तूफान के साथ हुई मूसलाधार बारिश और तेज हवाओं ने चारों ओर तबाही फैला दी

है। पूरे देश में नदियों के उफान के कारण बड़े पैमाने पर बाढ़ आई है। चिबा प्रान्त में

तो लोगों को बवंडर का भी सामना करना पड़ा।

एनएचके प्रसारणकर्ता के अनुसार, 37 नदियों पर बने सुरक्षात्मक बांध नष्ट हो गए

जबकि 16 जापानी प्रान्तों में 161 नदियों का जलस्तर खतरे के निशान से ऊपर है।

तूफान से जापान के फुकुशिमा, मियागी, कानागावा, तोचिगी, सैतामा, नागानो और

शिजुओका प्रान्त सबसे अधिक प्रभावित हुए हैं।

जापान में अनेक स्थानों पर अब भी बिजली बहाल नहीं

अर्थव्यवस्था, व्यापार और उद्योग मंत्रालय के अनुसार, 13 प्रान्तों में 138,000 घरों

में लोग बिना पानी के रह रहे हैं, जबकि 34,000 घरों में बिजली आपूर्ति बाधित है

जिसके कारण लोग बिना बिजली के रह रहे हैं। सरकारी स्तर पर राहत और

बचाव अभियान की पूर्व तैयारी होने के बाद जान-माल के इस नुकसान से ही अंदाजा

हो जाता है कि इस तूफान का कहर कैसा था।

जिसके गुजर जाने के बाद भी अब तक अनेक इलाकों में सामान्य नागरिक सुविधाएं

अब भी बहाल नहीं हो पायी है।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from जापानMore posts in जापान »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from पर्यावरणMore posts in पर्यावरण »

One Comment

Leave a Reply

error: Content is protected !!