जमुआ विधायक की पहल से हुआ महिलाओं को फायदा

जमुआ विधायक की पहले से हुआ महिलाओं को फायदा
Spread the love
  • 4
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    4
    Shares
  • शिविर में 410 मरीजों की हुई जांच

  • महिला डाक्टरों को मिला प्रशिक्षण

  • डॉ भारती कश्यप सम्मानित की गयीं

संवाददाता

रांची/गिरिडीह: जमुआ विधायक केदार हाजरा द्वारा प्रदत्त डिजिटल वीडियो कॉस्पोस्कोप एवं क्रायो मशीन के सेट का उदघाटन आज कोडरमा के सांसद रविन्द्र राय, गिरिडीह के विधायक निर्भय कुमार शहाबादी एवं जमुआ के विधायक केदार हाजरा ने किया।

इन लोगों ने वहां आयोजित एक चिकित्सा शिविर का उदघाटन किया। महिलाओं के लिए अत्यंत उपयुक्त इस मशीन के लोकार्पण के बाद वहां शिविर में डायबिटिज, ग्लूकोमा एवं मोतियाबिंद से आँखों की रौशनी खो रहे मरीजों की आँखों की जांच कश्यप मेमोरियल आई हॉस्पिटल की टीम के द्वारा की गई।

डायबिटिज से रौशनी खो रहे जिन मरीजों के आँखों के पर्दे में खून एवं सुजन की समस्या पाई गई उन्हें आंखों के पर्दे की मुफ्त लेजर एवं इंजेक्शन के लिए रांची स्थित कश्यप मेमोरियल आई हॉस्पिटल में भेजा गया।

इन मरीजों का निबंधन आयुष्मान भारत योजना के तहत कश्यप मेमोरियल आई हॉस्पिटल में आपरेशन हेतु किया गया।

वीमेन डॉक्टर्स विंग आई. एम. ए. झारखंड एवं स्वास्थ्य विभाग झारखंड सरकार के संयुक्त तत्वावधान में इस मेगा महिला स्वास्थ्य शिविर एवं ज्योत से ज्योत जलाओ अभियान का आयोजन प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र,कल्याणडीह, पचम्बा में किया गया।

इस मौके पर कोडरमा के सांसद रविन्द्र राय ने डॉ. भारती कश्यप को सम्मानित किया।

इस शिविर में वीमेन डॉक्टर्स विंग आई. एम. ए. झारखंड की स्त्री रोग विशेषज्ञों की टीम द्वारा शिविर में आने वाले सभी महिला मरीजों का इलाज किया गया।

जमुआ विधायक द्वारा प्रदत्त मशीन का प्रशिक्षण भी दिया गया

This image has an empty alt attribute; its file name is eye-camp-03.jpg

इसके साथ ही कोडरमा, गिरिडीह, हजारीबाग एवंचतरा की सभी सरकारी स्त्री रोग विशेषज्ञों को सर्वाइकल प्री-कैंसर की जांच और उपचार का प्रशिक्षण भी प्रदान कराया गया।

डॉ. भारती कश्यप न बताया की इस शिविर को सफल बनानेमें प्रदीप कुमार शर्मा, अशोक उपाध्याय, कामेश्वर पासवान, आशीष गुप्ता गिरिडीह के सिविल सर्जन डॉ. राम रेखा प्रसाद, डी.पी.एम. राजवर्धन रांची वीमेन डॉक्टर्स विंग की डॉ. रश्मि प्रसाद, डॉ. तनुश्री चक्रवर्ती तथा गिरिडीह के आईएमए के पदाधिकारियों के अलावा वीमेन डाक्टर्स विंग की डॉ. अमिता राय, डॉ. रेखा झा, डॉ. सुनीला, डॉ. मधु भूषण कोडरमा वीमेन डॉक्टर्स विंग की डॉ. सर्जना, डॉ. सरधा हजारीबाग वीमेन डॉक्टर्स विंग की डॉ. अनुभा शंकर, शिवानी यादव, चतरा वीमेन डॉक्टर्स विंग की डॉ. वीनिता, अमृता अनुप्रिया का अहम् योगदान रहा।

कैंप में कुल 410 मरीजों की जाँच की गई। इन में से 60% मरीजों में ग्राभास्य ग्रीवा (सर्विक्स) में सूजन एवं इन्फेक्सन पाया गया।

6 महिलाओं में सर्वाइकल प्री-कैंसर पाया गया जिन्हें कैंप अस्थल पर ही कोल्पोस्कोप गाइडेड क्रायो ट्रीटमेंट दे कर उन्हें कैंसर से मुक्त किया गया।

शिविर में आने वाली सभी महिलाओं को 1 महीने की आयरन फोलिक एसिड एवं एवं कैल्शियम की गोलियां मुफ्त बांटी गयी।

जननांग से सफेद स्त्राव यानी कि लुकोरिया से ग्रसित सभी महिलाओं को किट 2 और किट 6 की गोलियां मुफ्त में बांटी गयी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.