जैन श्वेतांबर संत आचार्य नय वर्धन ने पालगंज मंदिर में किया पूजन

जैन श्वेतांबर संत आचार्य नय वर्धन ने पालगंज मंदिर में किया पूजन
Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

पीरटांड़ःजैन श्वेतांवर संत आचार्य नय वर्धन ने पालगंज मंदिर का किया दर्शन पूजन आराधन किया ।

जैन तीर्थ स्थल सम्मेत शिखर जी मधुबन से आचार्य नय वर्धन सुरेश्वर जी महाराज गाजे-बाजे के साथ कोलकाता के लिए विहार किया।

रात्रि विश्राम पीरटांड़ विद्यालय में की बुधवार प्रात: पीरटांड़ से चलकर पालगंज जैन मंदिर पहुंचे।

जहां चतुर्थ कालीन भगवान पारसनाथ की प्रतिमा का दर्शन पूजन एवं आराधन ससंघ किया ।

वहीं संध्या समय ऋजु बालिका बराकर के लिए पालगंज से प्रस्थान किए ।

मौके पर पत्रकारों को आचार्य नए वर्धन सुरेश्वर जी महाराज ने कहा कि मधुबन एवं आसपास के क्षेत्र भगवान पार्श्वनाथ का चित्र है पारसनाथ पर्वत जहां 2020 भगवान मोक्ष को प्राप्त किए

वहीं ऋजुबालिका में भगवान महावीर को ज्ञान की प्राप्ति हुई यह क्षेत्र स्वर्ग से भी महान है

लेकिन किसी कारणवश आतंक के साए में या जी रहा है

मांसाहार का भरपूर प्रचार है

मैं चाहता हूं किस क्षेत्र से आतंकवाद उग्रवाद समाप्त हो और लोग शाकाहारी बने

तब ही भारत महान बन सकता है । उन्होंने जोर देते हुए कहा कि भगवान महावीर ने

इसी पारसनाथ की ऊंचाई से संपूर्ण विश्व को यह संदेश दिया कि

जियो और जीने दो जो इस धरती पर आया है सबको स्वच्छंद जीने का अधिकार है

लेकिन क्षेत्र के लोग जीव हिंसा करके प्राणी को कष्ट पहुंचाते हैं ।

पर्यावरण की सुरक्षा जीव सुरक्षा से की जा सकती है आज जंगल उजड़ रहे हैं

परिणाम सभी के सामने हैं वातावरण दूषित हो रहा है जंगल के प्राणी शहर की ओर दौड़ रहे है

जिस कारण प्रत्येक दिन कुछ ना कुछ घटना घटती है

पर्यावरण का सुरक्षा करना जीव का सुरक्षा करना हम सबों का कर्तव्य है ।

महाराज श्री के साथ अनेक साधु संत आचार्य मनी शास्त्री श्रावक श्राविकाएं साथ चल रहे हैं ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.