Press "Enter" to skip to content

मुंबई इंडियंस के सामने ईशान किशन, हार्दिक पांड्या और सूर्य के बीच मुकाबला







मुंबई: मुंबई के सामने अभी तक केवल दिल्ली कैपिटल्स ने ही अपने चार खिलाड़ियों को रिटेन किया है, जबकि डेडलाइन 30 नवंबर नजदीक है। मुंबई इंडियंस के सामने ईशान किशन, हार्दिक पांड्या या सूर्यकुमार यादव में से किसी एक को रखने की चुनौती होगी। मुंबई इंडियंस: कप्तान रोहित शर्मा और जसप्रीत बुमराह का रिटेन होना पक्का है और पांच बार की चैंपियन मुंबई इंडियंस कीरोन पोलार्ड को भी रिटेन कर सकती है, जो उनकी फ्रेंचाइजी के सबसे ख़ास खिलाड़ी रहे हैं। वहीं चौथे स्थान के लिए तीन खिलाड़ियों के बीच रेस है। इशान किशन, सूर्यकुमार यादव और हार्दिक पंड्या। हार्दिक 2018 की नीलामी में रिटेन किए गए चार खिलाड़ियों में से एक थे, लेकिन 2021 आईपीएल में वह फि­टनेस से जूझते दिखे। फिलहाल भारतीय चयनकर्ता अभी कुछ समय तक उन्हें चयन से दूर रखेंगे, जिससे वह गेंदबाजी के साथ पूरी फि­टनेस को पा सकें। मुंबई के लिए किशन भी अहम हैं क्योंकि वह आक्रामक बल्लेबाज हैं और कीपिंग भी कर सकते हैं। वह युवा भी हैं। वहीं सूर्य ने दिखाया है कि वह अपना प्रभाव जल्दी छोड़ते हैं और पारी को अच्छे से एंकर करते हैं।

मुंबई के एक और मुद्दा धोनी का रिटेन होना होगा

चेन्नई सुपर किंग्स: मौजूदा चैंपियन अपने चार खिलाड़ियों को रिटेन करने के लिए तैयार हैं, जिसमें से तीन भारतीय तिकड़ी एमएस धोनी, रवींद्र जडेजा और ऋतुराज गायकवाड़ हैं। चौथे स्थान को लेकर सवाल हैं, जिसमें मोईन अली, जॉश हेजलवुड, सैम करेन और ड्वेन ब्रावो का नाम है। एक और मुद्दा धोनी का रिटेन होना होगा, क्योंकि इससे उनके नीलामी पर्स पर फर्क पड़ेगा। चेन्नई धोनी को रखना चाहती है, जो उनके 2008 से कप्तान और पहले रिटेनर खिलाड़ी भी हैं। इसका मतलब है कि उनके पर्स से 16 करोड़ कम हो जाएंगे। हालांकि फ्रेंचाइजी के पास एडवांटेज यह है कि अगर पूर्व भारतीय कप्तान 2022 आईपीएल के बाद संन्यास ले लेते हैं तो 2023 में फ्रेंचाइजी के पास एक मजबूत पर्स होगा।हालांकि यह भी पता चला है कि धोनी कम पैसों में भी रिटेन होने को तैयार हैं, जिससे कि दूसरे खिलाड़ियों को अच्छा पैसा मिल सके।

खिलाड़ी व्यक्तिगत तौर पर मजबूत और अलग हैं

कोलकाता नाइट राइडर्स: सुनील नारायण और आंद्रे रसेल रिटेन होने वाली सूची में सबसे आगे हैं। केकेआर वरुण चक्रवर्ती को भी रिटेन करने की इच्छुक है, जिन्होंने पिछले दो सत्रों से टीम के लिए महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।चौथे स्थान के लिए वेंकटेश अय्यर, शुभमन गिल और राहुल त्रिपाठी के बीच रेस होगी। गिल और अय्यर में से किसी एक को चुनना आसान नहीं होगा, क्योंकि दोनों ही खिलाड़ी व्यक्तिगत तौर पर मजबूत और अलग हैं।केकेआर को गिल में कप्तानी का जज्बा दिखता है और अय्यर ने हाल ही के सीजन में अहम प्रभाव छोड़ा था। इसकी वजह से ही वह न्यूजीलैंड के खिलाफ घरेलू टी20 सीरीज में भारतीय टीम में डेब्यू भी कर पाए थे। भारतीय क्रिकेट में ज्यादा तेज गेंदबाजी हरफनमौला खिलाड़ी भी नहीं है और बल्लेबाज के तौर पर भी अय्यर बहुत मजबूत हैं। त्रिपाठी ने भी दिखाया है कि वह हंसते हुए किसी भी स्थान पर बल्लेबाजी कर सकते हैं।

आरसीबी को चार में से दो भारतीय खिलाड़ियों को रिटेन करना होगा

रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु: विराट कोहली और ग्लेन मैक्सवेल के रिटेन होने की पूरी संभावना है। हालांकि आरसीबी को चार में से दो भारतीय खिलाड़ियों को रिटेन करना होगा। देवदत्त पड़क्किल और हर्षल पटेल के साथ युजवेंद्र चहल और मोहम्मद सिराज भी इसके दावेदार होंगे और यह आसान चुनाव नहीं होने जा रहा है।पड़क्किल 21 साल के हैं और 2019 में चुने जाने के बाद वह ओपनर के तौर पर लगातार उभर रहे हैं। उन्हें खरीदा भी केवल 20 लाख में गया था। न्यूजीलैंड के खिलाफ हाल ही में टी20 सीरीज में डेब्यू करने वाले हर्षल आईपीएल में सर्वश्रेष्ठ डेथ ओवरों के गेंदबाज के तौर पर उभरे हैं। इस आइपीएल में वह सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज भी रहे थे।वहीं चहल, राशिद खान और आर अश्विन के साथ आईपीएल के सर्वश्रेष्ठ स्पिनरों में से एक हैं, जबकि सिराज पिछले दो सत्रों से भरोसेमंद तेज गेंदबाज के रूप में उभरे हैं।

यह बल्लेबाज नया करार करेगा

राजस्थान रॉयल्स: संजू सैमसन को पिछले साल ही कप्तान नियुक्त किया गया था तो उनका पहला रिटेनर खिलाड़ी बनना तय है। रॉयल्स ने इसकी पुष्टि भी कर दी है। रॉयल्स को अभी तीन खिलाड़ियों को और रिटेन करना है। इंग्लैंड के विकेटकीपर बल्लेबाज जोस बटलर दूसरा नाम हो सकते हैं और रॉयल्स को विश्वास है कि यह बल्लेबाज नया करार करेगा। चौथे स्लॉट पर भारतीय खिलाड़ी यशस्वी जायसवाल हो सकते हैं, जिन्हें रॉयल्स ने 2020 की नीलामी में 2.4 करोड़ में खरीदा था। यह तीसरा स्लॉट होगा जिस पर रॉयल्स को विचार करना होगा, जहां पर उन्हें दूसरे विदेशी खिलाड़ी को रिटेन करना है। यह स्लॉट अभी इंग्लैंड के तेज गेंदबाज जोफ्रा आर्चर का हो सकता है, लेकिन यह उनकी फिटनेस पर निर्भर करेगा। आर्चर 2020 आईपीएल में प्लेयर आॅफ द सीरीज थे, लेकिन कोहनी की चोट के कारण वह पिछला सीजन नहीं खेल सके। सवाल बेन स्टोक्स की अनुपस्थिति पर भी उठेंगे। रॉयल्स के लिए समस्या यही है कि अगर वह स्टोक्स को लेते हैं तो उनका पर्स कमजोर हो जाएगा, क्योंकि स्टोक्स को उन्होंने 12.4 करोड़ में खरीदा था। इंग्लैंड के एक दूसरे बल्लेबाज लियम लिविंगस्टन भी दौड़ में होंगे, जो टी20 क्रिकेट के एक खतरनाक बल्लेबाज हैं, साथ ही वह मध्य ओवरों में उपयोगी लेग स्पिनर भी हैं।

राशिद खान पहले खिलाड़ी बनने को तैयार हैं

सनराइजर्स हैदराबाद: वैसे कई सारे सनराइजर्स के प्रशंसक चाहते हैं कि फ्Þरेंचाइजी दिग्गज खिलाड़ी डेविड वॉर्नर को रिटेन करे, जो 2021 टी20 विश्व कप के प्लेयर आॅफ द सीरीज बने थे, लेकिन ऐसा मुमकिन नहीं दिखता है। राशिद खान पहले खिलाड़ी बनने को तैयार हैं, जिसे फ्रेंचाइजी रिटेन करेगी। कप्तान केन विलियमसन, हैदराबाद के द्वारा रिटेन किए जाने वाले दूसरे विदेशी खिलाड़ी हो सकते हैं। हालांकि, अगर फ्रेंचाइजी विलियमसन को रखती है तो उनके पर्स से 10 से 12 करोड़ कम हो जाएंगे। सवाल सनराइजर्स के लिए यह है कि वह न्यूजीलैंड के कप्तान को रिलीज कर दे और अगर नीलामी से पहले कोई दो टीम उनको नहीं खरीदती है तो नीलामी में दोबारा कम कीमत में खरीदे। अहम बात यह है कि अगर वह विलिमयसन में भविष्य का कप्तान देखते हैं तो यह बड़ा जुआ साबित हो सकता है क्योंकि कई फ्रेचाइजी भी नए कप्तान को ढूंढ रही हैं। अभी यह भी साफ नहीं है कि सनराइजर्स तीन खिलाड़ियों को रिटेन करेगी या चार। यह सामने आया है कि फ्रेंचाइजी एक अनकैप्ड भारतीय खिलाड़ी को लेना चाहती है। जम्मू एंड कश्मीर के अब्दुल समद इस दौर में सबसे आगे हैं।

किंग्स राहुल को अपने साथ रखना चाहती है

पंजाब किंग्स: क्या केएल राहुल ने पंजाब किंग्स से कहा था कि वह निकलना चाहते हैं? इसका अभी कोई जवाब नहीं है। लेकिन इस बात की बहुत संभावना है कि यह भारतीय बल्लेबाज लखनऊ की नई फ्रेंचाइजी के साथ जा सकता है। किंग्स राहुल को अपने साथ रखना चाहती है, क्योंकि यह बल्लेबाज पिछले कुछ सत्रों से आईपीएल का सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज बनकर उभरा है। फ्रेंचाइजी को एक और गुत्थी सुलझानी है। अगर वह राहुल को लेती है तो उन्हें मयंक अग्रवाल को भी लेना होगा। अगर अग्रवाल पहले या दूसरे खिलाड़ी के तौर पर रिटेन होते हैं तो उनके 12 से 16 करोड़ पर्स से कम हो जाएंगे। लेकिन अगर वह उन्हें रिलीज करती है तो दो नई फ्रेंचाइजी में से एक उन्हें खरीद सकती है। फ्रेंचाइजी कुछ अनकैप्ड भारतीय खिलाड़ियों को भी रखना चाहती है, जिसमें अर्शदीप सिंह और रवि बिश्नोई आगे हैं।



More from क्रिकेटMore posts in क्रिकेट »
More from खेलMore posts in खेल »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »

Be First to Comment

Leave a Reply

%d bloggers like this: