ईरानी पत्रकार का आरोप एफबीआई ने हिरासत के दौरान किया डराने का प्रयास

ईरानी पत्रकार का आरोप एफबीआई ने हिरासत के दौरान किया डराने का प्रयास
Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

वाशिंगटनः ईरानी सरकारी टेलीविजन की महिला पत्रकार मर्जीह हाशेमी ने एक विरोध रैली में कहा कि

अमेरिकी संघीय जांच ब्यूरो (एफबीआई) ने मुझे 10 दिनों तक अवैध रूप से हिरासत में रखा

और ऐसा करके मुस्लिम आबादी में डर पैदा करने का प्रयास किया जा रहा है।

एफबीआई द्वारा सुश्री हाशेमी को अवैध रूप से हिरासत में रखने के खिलाफ

शुक्रवार को वाशिंगटन में अमेरिकी डिस्ट्रिक्ट कोर्ट हाउस में बड़ी संख्या में लोगों ने विरोध प्रदर्शन किया।

प्रदर्शनकारियों ने अमेरिकियों शर्म करो के नारे लगाये साथ ही न्याय एवं अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता की मांग की।

सुश्री हाशेमी ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘वे लोग कह सकते हैं कि यह हिरासत वैध थी

लेकिन मैं जानती हूं कि विश्व के सभी स्वतंत्रता को चाहने वाले लोग इसे अवैध हिरासत कहेंगे।

मैं इसे अपहरण कहूंगी। उन्होंने मेरा हिजाब उतारकर मुझे जेल में बंद कर दिया।

हम जानते हैं कि यह गैर कानूनी है। वे लोग हम सभी में डर पैदा करना चाहते हैं।”

सुश्री हाशेमी ने आरोप लगाया कि एफबीआई अधिकारियों ने उसे हिरासत में रखे जाने की बात

मीडिया में सार्वजनिक न करने की भी चेतावनी दी।

उल्लेखनीय है कि सुश्री हाशेमी वर्ष 1982 से ईरान में रह रही हैं।

उसने ईरानी नागरिक से शादी की है

और वर्ष 2008 से ईरान के सरकारी टीवी के लिए काम कर रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.