Press "Enter" to skip to content

भारतीय टीम के खिलाड़ी मानसिक तौर पर मजबूत नहीं हैं : गौतम







मुंबई: भारतीय टीम, न्यूजीलैंड के खिलाफ रविवार को महत्वपूर्ण मुकाबले में भारतीय टीम की हार

के बाद पूर्व भारतीय बल्लेबाज गौतम गंभीर ने प्रतिक्रिया दी है। उनका मानना है कि भारतीय टीम

के पास कौशल की कमी नहीं है, लेकिन टीम मानसिक पर कमजोर है।

गौतम ने सोमवार को क्रिकइंफो के कार्यक्रम ‘टाइम आउट’ में कहा कि भारतीय टीम के खिलाड़ी

मानसिक तौर पर मजबूत नहीं हैं। उन्होंने कहा, सच कहूं तो मैं कभी भारतीय टीम के खेल और

रणनीति को परखने को कभी नहीं समझ पाया। आपके पास प्रतिभा है, कौशल है।

आप द्विपक्षीय सीरीज में बढ़िया खेलते हैं, लेकिन ऐसे बड़े टूर्नामेंट में आप को प्रदर्शन करना पड़ता

है। यह मैच एक क्वार्टरफाइनल से कम नहीं था और हमने इस बारे में बात भी की है कि मुश्किल

कहां है। मेरे हिसाब से शायद यह मनोबल की कमी है। पूर्व बल्लेबाज ने कहा, जब आपको अचानक

करो या मरो की स्थिति में डाला जाता है तो आप कोई गलती नहीं कर सकते।

भारतीय टीम को अपने बल्लेबाजों की वजह से हार मिली

जब आप द्विपक्षीय सीरीज में खेलते हैं तो बात अलग होती है। आप एक मैच में चूक कर के भी

वापसी कर सकते हैं, लेकिन ऐसे मैचों में मुझे नहीं लगता भारत मानसिक तौर पर मजबूत है।

उनके पास कौशल है और द्विपक्षीय सीरीज में यह टीम बहुत खतरनाक है। गौतम ने न्यूजीलैंड के

खिलाफ मैच के बारे में कहा, यह सिर्फ निराशानजक हार नहीं थी, बल्कि एक बेहद खराब प्रदर्शन था

और एक बार फिर भारतीय टीम को अपने बल्लेबाजों की वजह से हार मिली।

पाकिस्तान के खिलाफ पिछले मैच में मैं मान सकता हूं कि एक शानदार गेंदबाजी की वजह से

भारतीय बल्लेबाज अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाए, लेकिन न्यूजीलैंड के खिलाफ मैच में ऐसा लगा कि

हमारे खिलाड़ी किसी दबाव में खेल रहे थे या फिर नर्वस थे। अचानक से बल्लेबाजी क्रम में परिवर्तन

करना भी मेरे लिए हैरान करने वाला फैसला था।



More from क्रिकेटMore posts in क्रिकेट »
More from खेलMore posts in खेल »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »

One Comment

Leave a Reply

%d bloggers like this: