Press "Enter" to skip to content

भारतीय तेज गेंदबाज अभिमन्यु मिथुन ने प्रथम श्रेणी क्रिकेट से लिया संन्यास







बेंगलुरु: भारतीय तेज गेंदबाज अभिमन्यु मिथुन ने 12 सीजनों के बाद प्रथम श्रेणी क्रिकेट से

संन्यास की घोषणा की है। अभिमन्यु ने इस फैसले की घोषणा करते वक्त जोर देकर कहा कि

उन्होंने यह फैसला दूसरे रास्ते तलाशने के लिए लिया है। उन्होंने गुरुवार को एक बयान में कहा, मैंने

उच्चतम स्तर पर अपने देश का प्रतिनिधित्व किया है जो हमेशा मेरी सर्वोच्च उपलब्धि रहेगी।

इससे मिलने वाला आनंद और गर्व कुछ ऐसा है जिसे मैं अपने पूरे करियर में संजो कर रखूंगा।

क्रिकेट एक विश्वव्यापी खेल है और मैं इसे उच्चतम स्तर पर समाप्त करने में विश्वास करता हूं,

इसलिए मुझे यह निर्णय लेना पड़ा और दुनिया भर में अपने और अपने परिवार के लिए बेहतर

अवसरों की तलाश करनी पड़ी। मैं यह भी स्पष्ट करता हूं कि कर्नाटक में तेज गेंदबाजी की बहुत

प्रतिभा है और अगर मैं अपने करियर को आगे बढ़ाता हूं तो ऐसे युवा खिलाड़ी सही समय

पर अवसर गंवा देंगे।

भारतीय तेज गेंदबाज मिथुन 74 टी-20 मैचों में भी कुल 205 विकेट लिए हैं

उल्लेखनीय है कि मिथुन ने 103 प्रथम श्रेणी मैच खेले हैं, जिसमें 26.63 की औसत से 338 विकेट

हासिल किए हैं। उन्होंने 96 लिस्ट ए और 74 टी-20 मैचों में भी कुल 205 विकेट लिए हैं।

वह भारतीय टीम की ओर से चार टेस्ट (नौ विकेट) और पांच वनडे मैच भी खेले हैं, जिसमें उन्होंने

क्रमश: नौ और तीन विकेट लिए हैं। इन दोनों प्रारूपों में उनका अंतरराष्ट्रीय पदार्पण 2010 में हुआ

था। डिस्कस थ्रोअर के रूप में करियर शुरू करने वाले अभिन्यु मिथुन ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ

वनडे पदार्पण के पांच महीने बाद गाले में श्रीलंका के खिलाफ टेस्ट क्रिकेट में पदार्पण किया था।

उन्होंने तीन फ्रेंचाइजियों रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु, मुंबई इंडियंस और सनराइजर्स हैदराबाद की तरफ

से 16 आईपीएल मैच भी खेले हैं, जिसमें उनके नाम सात विकेट रहे हैं।



More from क्रिकेटMore posts in क्रिकेट »

Be First to Comment

Leave a Reply

%d bloggers like this: