fbpx Press "Enter" to skip to content

मैकमोहन रेखा पहुंचा भारतीय वायु सेना का एएन-32 विमान

  • चीन की गंदी चाल को को फिर किया नाकाम

  • अरुणाचल प्रदेश के करीब निर्माण कर रहा है

  • भारत ने भी इलाके में फौज तैनात रखे हैं

भूपेन गोस्वामी

गुवाहाटी: मैकमोहन रेखा के पास भारत ने भी अपनी किलेबंदी हर तरीके से मजबूत की

है। भारत से चल रहे विवाद के बीच चीन सीमा के नजदीक आधारभूत ढांचे को निरंतर

मजबूत करने की कोशिश में लगा हुआ है। देश के पूर्वी राज्य अरुणाचल प्रदेश में एक बार

फिर चीनी घुसपैठ की खबर हैं। अरुणाचल में एक बार फिर चीन ने गंदी चाल चली हैं।

अरुणाचल प्रदेश के भारतीय वायु सेना के वरिष्ठ अधिकारी ने इस घुसपैठ के संबंध में

जानकारी देते हुए बताया कि चीन ने अंजाव पर एक नई रेल लाइन दिखाई दिया है। यह

नई रेल लाइन पहले यहां मौजूद नहीं था। इसके हाल के दिनों में बनाया गया है। यह रेल

लाइन तिब्बत और अरुणाचल प्रदेश के बीच की मैकमोहन रेखा के करीब है। इस लिहाज

से इस एक रेल परियोजना के जरिये चीन लद्दाख और अरुणाचल प्रदेश, दोनों के ही और

करीब पहुंचना चाह रहा है। लिंझी में चीन ने एयरपोर्ट भी बना रखा है। यहां का एयरपोर्ट

हिमालय क्षेत्र में बने उसके पांच हवाई अड्डों में से एक है। यह खबर मिलने के बाद

भारतीय वायु सेना ने भारत चीन सीमा क्षेत्रों में अपने गतिविधि बढ़ा दी है । अरुणाचल

प्रदेश के वास्तविक नियंत्रण रेखा के पास सेना और वायु सेना दोनों पूरी तरह प्रस्तुत कर

रहा है। भारतीय वायु सेना ने भी मैकमोहन लाइन में एक आपातकालीन हवाई अड्डा

बनाया है। चीन द्वारा चलाया गया गंदी चाल को नाकाम करने के लिए चीन सीमा से लगे

अरुणाचल प्रदेश के मैकमोहन रेखा हवाई अड्डे पर मंगलवार को भारतीय वायु सेना का

मल्टी परपज एएन-32 विमान पहुंचा। इस दौरान विमान ने लैंडिंग और टेकऑफ का

अभ्यास किया।

मैकमोहन रेखा के पास वायुसेना ने किया अभ्यास

सीमा के सबसे नजदीकी एयर बेस मैकमोहन रेखा हवाई अड्डे पर सेना की गतिविधियां

बढ़ गई हैं। बीते करीब दो माह से हवाई अड्डा क्षेत्र सेना की छावनी में तब्दील हो गया है।

यहां आए दिन सेना के वाहनों के जत्थे पहुंच रहे हैं। यहां विश्राम के पश्चात सेना के जवानों

को बॉर्डर पर भेजा जा रहा है। दो दिन पहले हेलीकॉप्टर से तेजपुर भारतीय वायु सेना केंद्र

से लेकर अरुणाचल चीन सीमा तक पहुंचे वायु सेना के अधिकारियों ने यहां हवाई अड्डे का

जायजा लिया था।मंगलवार को तेजपुर भारतीय वायु सेना केंद्र से वायु सेना का मल्टी

परपज विमान एएन-32 पहुंचा। विमान ने हवाई पट्टी पर पांच बार लैंडिंग और टेकऑफ का

अभ्यास किया


 

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from HomeMore posts in Home »
More from अरुणाचल प्रदेशMore posts in अरुणाचल प्रदेश »
More from कूटनीतिMore posts in कूटनीति »
More from चीनMore posts in चीन »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from रक्षाMore posts in रक्षा »

One Comment

Leave a Reply

... ... ...
%d bloggers like this: