Press "Enter" to skip to content

इमरान खान ने कहा किसी और के युद्ध में शामिल नहीं होगा पाकिस्तान

इस्लामाबादः इमरान खान ने कहा है कि अब पाकिस्तान किसी और के युद्ध में कतई

शामिल नहीं होगा। अमेरिका और ईरान के बीच तनाव के चरम पर पहुंचने के बीच

पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान ने यह टिप्पणी की है। उन्होंने साफ लहजे में कहा कि

पाकिस्तान पहले ऐसी गलती कर चुका है लेकिन वह अन्य देशों के बीच उत्पन्न मतभेदों

को दूर करने का प्रयास करेगा।

श्री खान ने यहां एक कार्यक्रम के दौरान अमेरिका और ईरान के बीच एक बार फिर

मध्यस्ता करने की पेशकश करते हुए कहा, ‘‘ मैं आज अपनी विदेशी नीति का उल्लेख

करना चाहूंगा कि अन्य देशों के युद्ध में शामिल होने की अपनी पहले की गलतियों को नहीं

दोहरायेंगे। पाकिस्तान किसी और के युद्ध में शामिल नहीं होगा।

पाकिस्तान अन्य देशों के बीच शांति स्थापित करने का प्रयास करने वाला देश बनेगा।’’

प्रधानमंत्री ने कहा कि ईरान-सऊदी अरब और अमेरिका- ईरान के बीच जारी मतभेदों को

दूर करने के लिए पाकिस्तान हर संभव कोशिश करेगा। उन्होंने कहा, ‘‘हम ईरान और

सऊदी के बीच मैत्रीपूर्ण संबंधों को दोबारा मधुर करने का प्रयास करेंगे। मैंने अमेरिका के

राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से भी ईरान और अमेरिका के बीच मतभेदों को दूर करने के लिए

मध्यस्थता करने की पेशकश की है।

इमरान खान ने कहा वह मध्यस्थता करने के लिए तैयार हैं

श्री खान ने पश्चिम एशिया में बढ़ते तनाव के मद्देनज़र कहा कि युद्ध से कोई भी विजयी

नहीं होता है और युद्ध में जीतने वाला ही असल हारने वाला होता है। पाकिस्तान ने अतीत

में आतंकवाद के खिलाफ युद्ध में हिस्सा लेकर भारी कीमत चुकायी थी लेकिन अब वह

किसी अन्य देश के साथ युद्ध में शामिल होने की बजाय अन्य देशों के बीच मतभेदों को

दूर करने का प्रयास करेगा।

Spread the love
More from इतिहासMore posts in इतिहास »
More from कूटनीतिMore posts in कूटनीति »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from पाकिस्तानMore posts in पाकिस्तान »
More from बयानMore posts in बयान »

One Comment

... ... ...