दिल ठीक रखना है तो टीवी कम देखिये

दिल ठीक रखना है तो टीवी कम देखिये
Spread the love
  • 2
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    2
    Shares
  • वैज्ञानिक अनुसंधान से निकलकर आयी नई जानकारी

  • सोफा और टीवी एक साथ खतरनाक

  • टीवी देखने के बदले कसरत कीजिए

  • टीवी देखते हुए भी व्यायाम कर सकते हैं

प्रतिनिधि

नईदिल्लीः दिल को अधिक स्वस्थ रखना है तो आप टीवी कम देखें.

वैज्ञानिक अनुसंधान का यही निष्कर्ष अब सामने आया है.

ग्रीस के एक शोधदल ने अनेक प्रकार के तथ्यों का विश्लेषण करने के बाद यह नतीजा निकाला है.

उनका निष्कर्ष है कि बेहतर दिल के लिए लोगों को बढ़िया नाश्ता करना चाहिए

और टीवी कम से कम देखना चाहिए.

शोध का नतीजा है कि जो लोग प्रति सप्ताह 21 घंटे से अधिक टीवी देखते हैं, उन्हें रक्तचाप का प्रभाव से पीड़ित होना पड़ता है.

68 प्रतिशत ऐसे लोगों को ब्लड प्रेशर और 50 प्रतिशत को मधुमेह का प्रभाव झेलना पड़ता है.

दूसरी तरफ सप्ताह में सात घंटा या उससे कम टीवी देखने वाले

इनके मुकाबले ज्यादा बेहतर स्थिति में रहते हैं.

कम टीवी देखने वालों के लिए यह खतरा बहुत कम हो जाता है.

ग्रीस के कापोडिसट्रियान विश्वविद्यालय के शोध दल की यह रिपोर्ट सार्वजनिक हुई है.

इसमें लोगों की सामान्य आदतों से उनके स्वास्थ्य पर पड़ने वाले प्रभावों का विस्तार से अध्ययन किया गया है.

इसी क्रम में यह स्पष्ट किया गया है कि जो लोग नाश्ते में दूध, पनीर

और अन्य सेरेल नियमित रुप से लेते हैं, उनकी सेहत दूसरों के मुकाबले अधिक ठीक रहती है.

इस रिपोर्ट में अनेक लोगों की दिनचर्या और उनकी सेहतों का विस्तार से

अध्ययन और विश्लेषण किया गया है.

इसके साफ संकेत मिलते हैं कि अधिक दिनों तक अपने दिल को ठीक रखने के लिए

लोगों को अपने सोफा को त्यागकर औऱ टीवी को बंद कर

दूसरे कामों में खुद को व्यस्त कर लेना चाहिए.

इससे आप अधिक दिनों तक स्वस्थ्य रह सकते हैं.

पश्चिमी देशों के लिए यह तथ्य और भी महत्वपूर्ण है

क्योंकि वहां ईलाज एवं खासकर बुजुर्ग लोगों के ईलाज का खर्च बहुत महंगा है.

दूसरी तरफ कोई काम नहीं होने की वजह से घर के उम्रदराज लोग अक्सर ही सोफा पर बैठकर टीवी देखते हुए अपना टाइम पास किया करते हैं.

शोध में यह सुझाव दिया गया है कि टीवी देखने से बेहतर है कि लोग इस समय में कुछ भी शारीरिक परिश्रम करें.

इनमें बागवानी, वजन उठाना, टहलना अथवा पैदल चलने के साथ साथ कसरत करना शामिल है.

वैसे शोधकर्ताओं ने कहा है कि अगर टीवी देखने का इतना ही शौक है तो टीवी देखते हुए भी शारीरिक कसरत किया जाना चाहिए.

इससे निठल्ला बैठकर अपने दिल को दबाव में डालने का खतरा कम हो जाता है.

सुबह के नाश्ते के बारे में बताया गया है कि जो लोग ऊर्जा से पूर्ण नाश्ता लेते हैं, उनके दिलों की आर्टरियों में कड़ापन आने का खतरा 8.7 प्रतिशत तक कम हो जाता है.

जो लोग नाश्ता बिल्कुल नहीं करते उन्हें यह खतरा 15 प्रतिशत तक होता है जबकि हल्का नाश्ता करने वालों पर यह संकट 9.5 प्रतिशत रह जाता है.

जो लोग संतुलित ब्रेकफास्ट किया करते हैं उनपर हृदय की नलियों के रुकावट की शिकायतें 18 प्रतिशत तक हो सकती है जबकि नाश्ता नहीं करने वालों के लिए यह खरता 28 फीसद और हल्का नाश्ता करने वालों के लिए 26 प्रतिशत तक हो जाता है.

सेहत से संबंधित अन्य रोचक समाचार

वीर्यदान कर बना 22 बच्चों का पिता

आपको अधिक दिनों तक जवान रखेगा चौबीस घंटे का उपवास

दुर्लभ बीमारी से ग्रस्त है रेहान को हिंदू मानते हैं बजरंग बली

हर रोज दही या दही के व्यंजन खाइये

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.