fbpx Press "Enter" to skip to content

बिहार में आईएएस अफसरों की लॉबी में फेरबदल की उम्मीद है

  • अफसरों की गुटबाजी कोई गोपनीय बात नहीं बिहार में

  • कड़क अफसर माने जाते हैं नये मुख्य सचिव

  • उनका सेवाकाल भी दो महीने बचा हुआ है

दीपक नौरंगी

भागलपुरः बिहार में आईएएस अफसरों की लॉबी कोई अपरिचित बात नहीं हैं। यहां अलग

अलग लॉबी में अधिकारी बंटे हुए रहते हैं, यह काफी अरसे से जगजाहिर बात है। अब

उम्मीद की जा रही है कि नये मुख्य सचिव के तौर पर त्रिपुरारी शरण के आने के बाद यह

सारे समीकरण पूरी तरह बदल जाएंगे।

वीडियो में समझ लीजिए पूरी रिपोर्ट

वैसे इस काम को होने में अभी समय लगेगा क्योंकि फिलहाल पूरी प्रशासनिक मशीनरी

इनदिनों कोरोना महामारी से निपटने में पूरी ताकत से जुड़ी हुई है। जिन अधिकारियों का

तबादला किया गया है, वे सभी कमिशनर रैंक या उससे ऊपर के अधिकारी हैं। बिहार में

आईएएस अफसरों की लॉबी के बीच त्रिपुरारी शरण को मुख्य सचिव बनाये जाने का असर

भी दिखना अभी शेष है। कई रिटायर्ड अफसरों ने बताया कि वह अत्यंत की कड़क मिजाज

के अधिकारी माने जाते हैं। इसलिए उन्हें फालतू का मैनेज करना दूसरे अधिकारियों के

लिए भी कठिन हो सकता है। दूसरी तरफ इस बात की भी चर्चा है कि उनके रिटायर होने में

अब मात्र दो महीने का समय बचा है। इसके बाद बिहार सरकार उन्हें सेवा विस्तार देती है

अथवा नहीं, इस पर भी बिहार में आईएएस अफसरों की लॉबी का फेरबदल काफी हद तक

निर्भर है।

बिहार में आईएएस अफसरों की गुटबंदी नई बात नहीं

बिहार में प्रशासनिक सेवा के अधिकारियों के बीच इस किस्म की गुटबंदी की चर्चा आम तो

नहीं होती लेकिन यह एक सर्वविदित सत्य है। सचिवालय में नीचे से ऊपर तक हरेक को

पता होता है कि कौन अफसर किस गुट का है। कई बार ऐसा भी देखा गया है कि इसी

गुटबाजी की वजह से बिहार के विकास कार्यक्रमों को भी अड़चनों का सामना करना पड़ा

है। पूर्व मुख्य सचिव अरुण कुमार सिंह के कोरोना से निधन के बाद राजकीय सम्मान के

साथ उनका अंतिम संस्कार भी कर दिया गया है। इसके बाद पहले से ही सक्रिय अफसरों

की लॉबी में नये समीकरण क्या कुछ गुल खिलाते हैं, इसे देखने के लिए कोरोना संकट के

कम होने तक का इंतजार करना पड़ेगा।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from HomeMore posts in Home »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from बिहारMore posts in बिहार »
More from राज काजMore posts in राज काज »
More from राजनीतिMore posts in राजनीति »
More from वीडियोMore posts in वीडियो »

Be First to Comment

... ... ...
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: