fbpx Press "Enter" to skip to content

खुफिया रिपोर्ट के बाद सभी पूर्वोत्तर राज्य में तलाशी शुरू

  • मेघालय में काफी मात्रा में विस्फोटक डेटोनेटर बरामद

भूपेन गोस्वामी

गुवाहाटी: खुफिया रिपोर्ट के बाद सभी पूर्वोत्तर राज्य में तलाशी शुरू कर दी गयी है। भारत

के पूर्वोत्तर राज्यों में चीन  विद्रोही समूहों को हथियार और गोला-बारूद की आपूर्ति कर

रहा है।कोरोना से पूरी दुनिया में तबाही मचाने के बाद चीन अब उग्रवादियों के जरिये इस

पूरे क्षेत्र में अस्थिरता फैलाना चाहता है। हालांकि, म्यांमार और भारत में अवैध रूप से

चीनी हथियारों का आसान प्रवाह क्षेत्रीय सुरक्षा और स्थिरता के लिए खतरा पैदा कर रहा

है। खुफिया एजेंसियों ने इस संबंध में भारत सरकार को सतर्क किया है। एजेंसियों ने

सरकार को सतर्क करते हुए कहा, प्रमुख विद्रोही समूहों विशेष रूप से असम, मणिपुर,

नागालैंड और मिजोरम के लोग चीनी खुफिया एजेंसियों के साथ नियमित संपर्क बनाए

रखते हैं और ये चीनी उदारता और हथियारों से लाभान्वित हुए हैं। खुफिया एजेंसी के

रिपोर्ट मिलने के बाद सभी पूर्वोत्तर राज्य सुरक्षा बल को सतर्क कर दिया गया है। असम,

मेघालय ,मिजोरम ,अरुणाचल, नागालैंड ,त्रिपुरा के सुरक्षा बल ने तलाशी शुरू कर दी थी।

इस तलाशी में मेघालय के ईस्ट जयंतिया हिल्स जिले में भारी मात्रा में विस्फोटक और

डेटोनेटर के साथ छह लोगों को गिरफ्तार किया गया। पुलिस ने शुक्रवार को यह जानकारी

दी। उन्होंने बताया कि एक गाड़ी में विस्फोटक होने के बारे में गुप्त सूचना मिलने के बाद

पुलिस ने बुधवार रात 4किलो इलाके में अभियान चलाया। इस दौरान लाडरिमबाई पुलिस

चौकी इलाके के कोंगोंग में असम के पंजीकरण नंबर वाली एक गाड़ी को रोका गया।

खुफिया रिपोर्ट के आधार पर ही गाड़ी से विस्फोट पाये गये

सहायक पुलिस महानिरीक्षक जी के इंगराई ने बताया कि कार से दस पेटी में 250

किलोग्राम विस्फोटक (2,000 जिलेटिन छड़ें), 1000 डेटोनेटर बरामद किए गए। गाड़ी में

सवार दो लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया। उन्होंने बताया कि गिरफ्तार किए गए लोगों

से सूचना मिलने के बाद खलीहरियट में चार और लोगों को पकड़ा गया। वहां पर छापेमारी

के दौरान करीब 1275 किलोग्राम विस्फोटक (10,200 जिलेटिन छड़ें), 5000 डेटोनेटर

बरामद किए गए। इंगराई ने बताया, ‘‘अभियान के दौरान कुल मिलाकर 1525 किलोग्राम

विस्फोटक सामग्री बरामद की गयी।’’ उन्होंने बताया कि विस्फोटक कानून तथा अन्य

संबंधित धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया। मामले में आगे छानबीन की जा रही है।

पुलिस महानिरीक्षक जीके इंगराई ने इस संवाददाता से कहा कि विस्फोटक अधिनियम

और अन्य संबंधित धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है, उन्होंने कहा कि एक जांच

चल रही है।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from आतंकवादMore posts in आतंकवाद »
More from उत्तर पूर्वMore posts in उत्तर पूर्व »
More from चीनMore posts in चीन »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »
More from रक्षाMore posts in रक्षा »

2 Comments

... ... ...
%d bloggers like this: