Press "Enter" to skip to content

अवैध तरीके से संचालित हो रहा हॉट मिक्सिंग प्लांट







घाघरा: अवैध तरीके से संचालित हो रहे हॉट मिक्सिंग प्लांट को कोई देखने वाला भी नहीं है।

माफिया को ना कानून का डर है, और ना ही माफिया के ऊपर कानून का नजर है।

सुदूरवर्ती इलाके में प्रशासन ट्रैक्टर पकड़ने जाती है और ऐसे ट्रैक्टरों को पकड़ कर लाती है,

जो कि घर बनाने के लिए नदी में बालू लाने जाते हैं ।

जबकि माफिया के द्वारा चलाए जा रहे हॉट मिक्स प्लांट के सामने से प्रशासन जाती है

लेकिन उन्हें यह नजर नहीं आता है। क्योंकि यह तो माफिया है।

घाघरा थाना क्षेत्र के नौडीहा के पास अवैध तरीके से घाघरा लोहरदगा मुख्य सड़क के किनारे

मात्र 2 मीटर के अंदर यह अवैध तरीके से हॉट मिक्स प्लांट को चलाया जा रहा है।

इसी सड़क से कई बार जिले के उपायुक्त, प्रखंड विकास पदाधिकारी,

अंचलाधिकारी से लेकर अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी थाना प्रभारी सहित कई जिले के बड़े अधिकारी गुजरे हैं,

लेकिन इस पर आज तक कार्रवाई नहीं किया गया।यह कोई नई बात नहीं है

यह पिछले 5 वर्षों से अधिक से चलाया जा रहा है।

हॉट मिक्स प्लांट को चलाने वाले माफिया लोगों का कहना है कि पूरे सिस्टम को हमने मैनेज किया है।

अगर हम लोगों ने मैंनेज नहीं किया होता तो क्या सड़क के किनारे हॉट मिक्स प्लांट चलाने का अनुमति किसे मिला है, जो हमें मिलेगा।

सवाल यह है कि क्या सचमुच में माफिया लोगों के द्वारा प्रशासन को मैनेज कर यह अवैध हॉट मिक्स प्लांट चलाया जा रहा है।

कार्रवाई नहीं होना वह भी 5 वर्षो के अंदर एक बार भी यह स्पष्ट करता है कि कुछ तो बात है?

अब घाघरा के ट्रैक्टर मालिकों का कहना है कि कुछ दिन पहले

घाघरा के अंचलाधिकारी व थाना प्रभारी घूम घूम कर अवैध बालू लदा ट्रैक्टर पकड़ रहे थे।

हम लोगों कोईमाफिया नहीं है हम लोग तो घर बनाने के लिए बालू का ढुलाई कर ट्रैक्टर से लाते है,

लेकिन सड़क के किनारे स्थाई रूप से इतना बड़ा अवैध प्लांट को चलाया जाना क्या प्रशासन को नहीं दिखाई पड़ता है।

घाघरा के लोगों ने प्रशासन के कार्यशैली पर सवाल खड़ा करते हुए

कहा है क्या कानून सिर्फ आम लोगों के लिए माफियाओं के लिए नहीं।

जिस जगह पर प्लांट है उससे महज आधा किलोमीटर की दूरी पर दो बड़े बड़े

सरस्वती शिशु विद्या मंदिर व संत युद्ध मध्य विद्यालय स्कूल है।

इस स्कूल के सैकड़ों छात्र-छात्राएं प्रतिदिन इस प्लांट के बगल से होकर गुजरते हैं बच्चों का कहना है कि

जब हम इस प्लांट के पास से गुजरते हैं तो सांस लेने में काफी तकलीफ होती है

और धुआ से कपड़ा तक धंधा हो जाता है।कई बार तो खांसी भी हो जाती है दवा खाने के बाद ठीक होता है।

बच्चों को यह पता नहीं है की यह वैध तरीके से चलाया जा रहा है

अवैध लेकिन उनका कहना है कि इसे सड़क के किनारे से हटाया जाना चाहिए।



Spread the love
  • 1
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •   
  •  
  •  
    1
    Share
More from गुमलाMore posts in गुमला »

Be First to Comment

Leave a Reply

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com