राष्ट्रपति चुनाव : राजद के रुख से जदयू में नाराजगी

0 2,559

 पटना : राष्ट्रपति चुनाव के मुद्दे पर बिहार में सत्तारुढ़ महागठबंधन के बड़े घटक राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के ताजा रुख से जनता दल यूनाइटेड (जदयू) में भारी नाराजगी देखी जा रही है। जदयू के प्रदेश अध्यक्ष एवं राज्यसभा सांसद वशिष्ठ नारायण सिंह ने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि उप मुख्यमंत्री तेजस्वी प्रसाद यादव के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के संबंध में की गई टिप्पणी को पार्टी ने गंभीरता से लिया है। सरकार में बैठे लोगों से ऐसे बयान की उम्मीद नहीं की जा सकती।

श्री सिंह ने कहा कि उनकी पार्टी को कोई निर्देशित नहीं कर सकता है। महागठबंधन का घटक होने के नाते राजद अपना गठबंधन धर्म निभाये। उन्होंने कहा कि राजद की बौखलाहट उनकी समझा से परे है। गठबंधन और पार्टियों की नीतियां दोनों अलग-अलग चीज है।

उन्होंने संकेत दिया कि मौजूदा हालात पर उनकी पार्टी नजर बनाये हुए है । पटना वहीं, जदयू के मुख्य प्रवक्ता एवं विधान परिषद के सदस्य संजय सिंह ने कहा कि राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव अपने नेताओं से मुख्यमंत्री एवं पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश कुमार को गाली दिलवाना बंद करें। जदयू के नेता और कार्यकर्ताओं ने चूड़यिां नहीं पहन रखी है। श्री सिंह ने कहा कि बिहार विधानसभा चुनाव में श्री नीतीश कुमार का चेहरा नहीं होता तो राजद का बंटाधार हो जाता।

श्री कुमार के चेहरे पर ही बिहार के लोगों ने महागठबंधन को भारी जनादेश दिया है । उन्होंने कहा कि राजद अध्यक्ष श्री यादव पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रघुवंश प्रसाद सिंह और विधायक भाई वीरेन्द्र जैसे नेताओं से डरते हैं । उल्लेखनीय है कि राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन की ओर से राष्ट्रपति पद के लिए घोषित उम्मीदवार रामनाथ कोंविंद को जदयू ने अपना समर्थन देने की घोषणा की है । इसके बाद से ही महागठबंधन के घटक राजद और कांग्रेस के नेता जदयू के खिलाफ लगातार टिप्पणी कर रहे हैं ।

You might also like More from author

Comments

Loading...