fbpx Press "Enter" to skip to content

हीरो आई लीग फुटबॉल में 11 टीमें, चैंपियन को मिलेंगे 1 करोड़

नयी दिल्लीः हीरो आई लीग का 13वां संस्करण 30 नवंबर से शुरू होगा और इस सत्र में

11 टीमें हिस्सा लेंगी जिसमें विजेता टीम को एक करोड़ रुपये की पुरस्कार राशि मिलेगी।

अखिल भारतीय फुटबाल महासंघ (एआईएफएफ) ने आई लीग के 13वें संस्करण को

गुरुवार यहां संवाददाता सम्मेलन में आधिकारिक रूप से लांच किया। टूर्नामेंट का

उद्घाटन मैच पूर्व चैंपियन मोहन बागान और आईजॉल एफसी के बीच मिजोरम के

राजीव गांधी स्टेडियम में खेला जाएगा। मणिपुर की ट्राऊ एफसी इस सत्र में आई लीग में

अपना पदार्पण करेगी। ट्राऊ एफसी ने पिछले सत्र में दूसरी डिविजन की खिताब जीतकर

आईलीग में खेलने का हक पाया था। भारतीय फुटबाल के इतिहास में यह पहला मौका

होगा जब कोलकाता डर्बी के साथ साथ इम्फाल डर्बी भी देखने को मिलेगी। कोलकाता

डर्बी में ईस्ट बंगाल और मोहन बागान की टीमें भिड़ेंगी जबकि इम्फाल डर्बी में नेरोका

एफसी और ट्रॉऊ एफसी का मुकाबला होगा। टूर्नामेंट के 12वें संस्करण में रियल कश्मीर

ने आईलीग में अपना पदार्पण किया था और तीसरे स्थान तक पहुंची थी। 13वें संस्करण

का प्रसारण खेल चैनल डीस्पोर्ट पर किया जाएगा। विजेता टीम को एक करोड़ रुपये,

उपविजेता को 60 लाख, तीसरे स्थान को 40 लाख और चौथे स्थान को 25 लाख रुपये

मिलेंगे। भारतीय राष्ट्रीय टीम के कोच इगोर स्टिमैक आईलीग की ट्रॉफी के साथ मंच पर

मौजूद खिलाड़ियों के बीच पहुंचे और उन्होंने कहा कि आईलीग ही एकमात्र प्रतियोगिता है

जिससे राष्ट्रीय टीम को भविष्य के खिलाड़ी मिलते हैं।

हीरो आई लीग जैसे आयोजन की बात कही थी सुनील छेत्री ने

स्टिमैक ने साथ ही कहा,‘‘ आईलीग का महत्व आईएसएल के बराबर है। मैं उस हर

खिलाड़ी का समर्थन करता हूं जो आईलीग में खेलता है और मैं टूर्नामेंट के दौरान कई

मैचों को खुद देखने के लिये मौजूद रहूंगा। मैं आईलीग के खिलाड़ियों को संदेश देना

चाहता हूं कि वे हमारे लिये सबसे अधिक महत्वपूर्ण हैं क्योंकि वे देश का भविष्य हैं।’’

आईलीग में उतरने वाली 11 टीमों में गत चैंपियन चेन्नई सिटी, पंजाब एफसी, आईजॉल

एफसी, नेरोका एफसी, ट्राऊ एफसी, मोहन बागान, ईस्ट बंगाल, गोकुलम एफसी, चर्चिल

ब्रदर्स गोवा, इंडियन एरोज और रियल कश्मीर शामिल है।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »

Be First to Comment

Leave a Reply

error: Content is protected !!
Open chat