fbpx Press "Enter" to skip to content

पश्चिम बंगाल में डॉक्टरों की हड़ताल खत्म स्वास्थ्य सेवाएं बहाल




कोलकाताः पश्चिम बंगाल में जूनियर डॉक्टरों की हड़ताल समाप्त होने के

बाद सभी सरकारी अस्पतालों में चिकित्सा सेवाएं मंगलवार को बहाल कर दी गई।

राज्य के एनआरएस अस्पताल में दो डॉक्टरों के साथ मारपीट के विरोध में

हड़ताल पर जाने वाले जूनियर डॉक्टरों ने सोमवार को मुख्यमंत्री ममता बनर्जी

द्वारा अपनी सभी मांगे मान लिये जाने के बाद अपना आंदोलन खत्म कर दिया है।

राज्य के सभी सरकारी अस्पतालों में स्वास्थ्य सेवाएं शुरू कर दी गई है।

इसके बाद कोलकाता के मध्य हिस्से में एनआरएस, दक्षिणी हिस्से में

एसएसकेएम और उत्तरी हिस्से में आरजी कर मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल में

ओपीडी और आपातकालीन वार्डों में रोगियों और उनके परिजनों की लंबी

कतारें लग गई हैं। पश्चिम बंगाल आरजी कर मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल के एक

बुंिकग अधिकारी के अनुसार सात दिनों के हड़ताल की वजह से सप्ताह के

अन्य दिनों के मुकाबले अब यहां मरीजों की भीड़ अधिक है। निजी अस्पताल के

डॉक्टरों ने भी स्वास्थ्य सेवाएं बहाल कर दी है।

सोमवार को इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आईएमए)

द्वारा सोमवार को हड़ताल का आह्वान किए जाने के बाद ये डॉक्टर भी

हड़ताल में शामिल हो गये थे। नबन्ना में मुख्यमंत्री और दो सीनियर डॉक्टरों की

उपस्थिति में 14 मेडिकल कॉलेजों के 31 जूनियर हड़ताली डॉक्टरों के बीच

सोमवार शाम 90 मिनटों की बैठक के बाद सरकार ने उनकी

सभी 12-सूत्री मांगे मान ली और कुछ अवसरंचनात्मक

सुविधाओं में सुधार का आश्वासन भी दिया।



Rashtriya Khabar


One Comment

Leave a Reply

WP2FB Auto Publish Powered By : XYZScripts.com