fbpx Press "Enter" to skip to content

शराब की जगह सैनिटाइजर पीकर अस्पताल पहुंचा

दंतेवाड़ाः शराब की जगह सैनिटाइजर पी लेने की वजह से एक व्यक्ति को अस्पताल ले

जाना पड़ा। जिस व्यक्ति की ऐसी हालत हुई वह दरअसल शराब का आदी थी। कोरोना

वायरस के प्रकोप की वह से छत्तीसगढ़ सहित देश के अधिकांश इलाकों में नशे की दुकानें

बंद हैं। अपने हिस्से का नशा नहीं मिलने से परेशान युवक ने बीती रात को सैनिटाइजर का

सेवन कर लिया। उसके परिचितों के मुताबिक इसमें भी अल्कोहोल होने की वजह से उसे

यह गलतफहमी हो गयी थी कि इसके सेवन से भी अन्य खांसी की दवाइयों की तरह

अल्कोहल का आनंद आयेगा। पुलिस सूत्रों के अनुसार बचेली के एक रेलवे कर्मचारी

सामुएल ने शाम को घर पहुंचने के बाद सैनिटाजर बॉटल उठाकर गटक गया। थोड़ी देर

बाद उसकी तबियत बिगड़ने लगी तो परिजनों को इसकी जानकारी दी। तब उसे अपोलो

हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया जहां उपचार के बाद चिकित्सकों ने उसे खतरे से बाहर

बताया है। बावजूद 48 घण्टे के लिए चिकित्सकों की निगरानी में रखा गया है। इस बीच

अगर उसकी सेहत में कोई बदलाव नजर आता है तो तुरंत उसका निदान किया जा सके।

शराब की जगह दूसरे विकल्प तलाश रहे नशेड़ी

कानपुर में भी जहरीली शराब से लोगों की मौत होने की सूचना से इस बात की पुष्टि हो

चुकी है कि शराब उपलब्ध नहीं होने की स्थिति में लोग अन्य विकल्पों की तलाश कर रहे

हैं। कानपुर में इसी वजह से जहरीली शराब पीकर लोग मरे हैं। वैसे इस बीच पूरे देश में अब

तक शराब की जगह सैनेटाइजर पीने की कोई दूसरी शिकायत इससे पहले नहीं आयी है।

कुछ राज्यो में लगातार इस बात की मांग हो रही है कि जहां संक्रमण नहीं है,वहां कमसे

कम शराब की दुकानों को खोलने की अनुमति दी जानी चाहिए। सभी राज्य सरकारों का

भी एक बड़ा तबका इसके पक्ष में है। यह सोच इसलिए भी है क्योंकि शराब के राजस्व की

आमदनी काफी अधिक होती है। वर्तमान में सभी सरकारों के लिए राजस्व संग्रह शून्य पर

पहुंच गया है।


 

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More from अजब गजबMore posts in अजब गजब »
More from कोरोनाMore posts in कोरोना »
More from छत्तीसगढ़More posts in छत्तीसगढ़ »
More from ताजा समाचारMore posts in ताजा समाचार »

One Comment

Leave a Reply

error: Content is protected !!